Punjab: कैप्टन ने सिद्धू पर लगाया ‘देशद्रोह’ का आरोप, BJP ने सोनिया-राहुल की चुप्पी पर उठाए सवाल

Punjab: दरअसल, शनिवार को पंजाब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पाकिस्तानी कनेक्शन को लेकर नवजोत सिंह सिद्धू पर तीखा हमला बोला था। उन्होने सिद्धू द्वारा पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और जनरल बाजवा की तारीफ करने को लेकर सवाल खड़ा करते हुए उन्हे राष्ट्रविरोधी तक बता दिया था।

Written by: September 19, 2021 4:45 pm
amrinder singh and Sonia Gandhi

नई दिल्ली। आलाकमान के रवैये से नाराज होकर मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपनी ही पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। कैप्टन ने सिद्धू पर पाकिस्तान से मिले होने का आरोप लगाते हुए कहा था कि अगर कांग्रेस पार्टी ने उन्हे पंजाब का मुख्यमंत्री बनाने का फैसला किया तो वो इसका विरोध करेंगे। कैप्टन के इन आरोपों को लेकर भाजपा अब कांग्रेस के खिलाफ मुखर हो गई है। पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता प्रकाश जावडेकर ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ बहुत गंभीर आरोप लगा रहे हैं। कैप्टन सिद्धू को राष्ट्रविरोधी कह रहे हैं। जावडेकर ने इस मुद्दे को राष्ट्रीय सुरक्षा से जोड़ते हुए कांग्रेस की अंतरिम राष्ट्रीय अध्यक्षा सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी की चुप्पी पर सवाल खड़ा करते हुए पूछा कि क्या कांग्रेस इन आरोपों का संज्ञान लेते हुए कार्रवाई करेगी? उन्होंने कहा कि कांग्रेस को इन आरोपों पर अपना पक्ष रखना चाहिए।

दरअसल , शनिवार को पंजाब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पाकिस्तानी कनेक्शन को लेकर नवजोत सिंह सिद्धू पर तीखा हमला बोला था। उन्होने सिद्धू द्वारा पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और जनरल बाजवा की तारीफ करने को लेकर सवाल खड़ा करते हुए उन्हे राष्ट्रविरोधी तक बता दिया था। कैप्टन ने यह भी कहा था कि इन सारे तथ्यों के बारे में वो कई बार कांग्रेस आलाकमान को जानकारी दे चुके हैं।

कैप्टन के इन आरोपों ने भाजपा को एक बार फिर से कांग्रेस आलाकमान पर राजनीतिक निशाना साधने का मौका दे दिया है। वैसे भी आपसी बातचीत में भाजपा के कई नेता यह मानते हैं कि सैन्य पृष्ठभूमि से जुड़े होने के कारण राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर कैप्टन के मंसूबों पर कभी भी सवाल खड़ा नहीं किया जा सकता और उन्होने पाकिस्तान के खिलाफ उठाए गए मोदी सरकार के हर कदम का समर्थन ही किया है।

Support Newsroompost
Support Newsroompost