3 साल की बेटी के साथ 900 किमी पैदल चली गर्भवती महिला, स्मृति ईरानी ने की मदद

एक महिला अपनी तीन साल की बेटी के साथ नौ सौ किलोमीटर पैदल चलकर मध्य प्रदेश के इंदौर से उत्तर प्रदेश के अमेठी पहुंच गई। अपने संसदीय क्षेत्र की इस महिला के बारे में खबर मिलते ही सांसद और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने जिला प्रशासन से पूरे परिवार की सुविधाओं का ख्याल करने को कहा।

Avatar Written by: May 10, 2020 7:02 pm

नई दिल्ली। एक महिला अपनी तीन साल की बेटी के साथ नौ सौ किलोमीटर पैदल चलकर मध्य प्रदेश के इंदौर से उत्तर प्रदेश के अमेठी पहुंच गई। अपने संसदीय क्षेत्र की इस महिला के बारे में खबर मिलते ही सांसद और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने जिला प्रशासन से पूरे परिवार की सुविधाओं का ख्याल करने को कहा।

प्रशासन ने मां और बेटी का स्वास्थ्य परीक्षण कराकर उन्हें राशन आदि जरूरी सामान उपलब्ध कराए। महिला को होम क्वारंटीन किया गया है।
दरअसल अमेठी के बड़ौली गांव निवासी अम्तुल निशा इंदौर में रहतीं थीं। लॉकडाउन के दौरान इंदौर में रहने में मुश्किलें खड़ीं हुईं तो वह तीन साल की बेटी को लेकर पैदल ही अमेठी के लिए निकल पड़ीं। इंदौर से अमेठी के बीच नौ सौ किलोमीटर की दूरी तय कर वह घर पहुंचीं। परिवार के बारे में जब अमेठी सांसद और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को खबर हुई तो उन्होंने जिला प्रशासन को परिवार की हरसंभव मदद करने के लिए कहा।


जिसके बाद डीएम अरुण कुमार ने स्वास्थ्य विभाग को महिला और उसकी बेटी के स्वास्थ्य परीक्षण का निर्देश दिया। अमेठी के जगदीशपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र(सीएचसी) पर महिला और उसकी बेटी की जांच हुई। इसके बाद प्रशासन ने राशन किट, फल, मास्क औ सैनिटाइजर आदि उपलब्ध कराते हुए मां-बेटी को होम क्वारंटीन की सुविधा दी।

अमेठी के जिलाधिकारी अरुण कुमार ने रविवार को ट्वीट कर महिला और उसकी बेटी की सांसद स्मृति ईरानी के निर्देशन में हुए मदद के बारे में जानकारी दी। उन्होंने ट्वीट कर कहा, “मा.सांसद महोदया के निर्देशन में इंदौर से अमेठी अपनी 3 वर्ष की बेटी के साथ पैदल चलकर पहुंची अम्तुल निशा पुत्री जुम्मन अली खां निवासी ग्रा बड़ौली थाना जगदीशपुर का सीएचसी जगदीशपुर में मेडिकल परीक्षण व मास्क,सेनीटाइजर,राशनकिट,फल आदि उपलब्ध कराते हुए होम क्वारंटाइन किया गया।”