यूनिवर्सिटीज में फाइनल ईयर की परीक्षा कराने के खिलाफ राहुल गांधी ने शुरू किया कैंपेन

जब से यूजीसी ने फाइनल ईयर की परीक्षाएं कराने का फैसला सुनाया है, तभी से स्टूडेंट इस फैसले का खूब विरोध कर रहे हैं। ऐसे में राहुल गांधी ने “Speak Up Against Students के नाम से एक कैंपेन शुरू किया है।

Avatar Written by: July 10, 2020 11:26 am

नई दिल्ली। जब से यूजीसी ने फाइनल ईयर की परीक्षाएं कराने का फैसला सुनाया है, तभी से स्टूडेंट इस फैसले का खूब विरोध कर रहे हैं। कुछ दिनों पहले यूजीसी की रिवाइज्‍ड गाइडलाइंस आने के बाद यह तय हुआ था कि यूनिवर्सिटी की फाइनल ईयर की परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी और स्टूडेंट्स को ऐसे ही प्रमोट नहीं किया जाएगा। स्टूडेंट्स के साथ ही कुछ जगहों पर टीचर्स भी इन परीक्षाओं के आयोजन का विरोध कर रहे हैं।

ऐसे में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ”Speak Up Against Students” के नाम से एक कैंपेन शुरू किया है। कांग्रेस नेता ने शुक्रवार सुबह ट्विटर पर एक वीडियो जारी कर लिखा, ”आइये #SpeakUpForStudents campaign से जुड़ें।”

इस कैंपेन के जरिये यूजीसी द्वारा करायी जा रही फाइनल ईयर की परीक्षाओं का विरोध किया जा रहा है और बिना परीक्षाएं हुए स्टूडेंट्स को पास करने की मांग की है। इस कैंपेन में ये भी कहा गया है कि स्टूडेंट्स को पिछले सेमेस्टर के माध्यम से नंबर दिए जाये और पास किया जाए। क्योंकि कोरोना का प्रकोप इस समय ज्यादा है और स्टूडेंट्स पर इसका खतरा है।

ugc

हालांकि एग्जाम के तहत स्टूडेंट्स को कुछ खास बातों का ध्यान रखना होगा जैसे, स्टूडेंट्स के बीच कम से कम दो मीटर की दूरी होनी चाहिए। दो स्टूडेंट्स के बीच में एक सीट की खाली रखनी होगी। इसके अलावा एक क्लासरूम में चार कॉलम होंगे और उनके बीच एक सीट की जगह खाली होगी। इसके अलावा विश्वविद्यालयों में परीक्षा के दौरान सभी परीक्षा केंद्रों पर हैंड सैनिटाइजर और हैंडवॉश रखा जाना आवश्यक है। इन परीक्षाओं में शामिल होने वाले परीक्षक, स्टूडेंट्स और अन्य लोगों का रिकॉर्ड होना चाहिए, जिससे अगर कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग किया जा सके।