देशद्रोह का आरोपी शरजील इमाम जहानाबाद से हुआ गिरफ्तार

शरजील के ऊपर जो धाराएं लगी हैं, उसमें आईपीसी की 124 ए, 153 ए और 505 ए धारा शामिल हैं। शरजील पर इन्हीं धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया है।

Written by: January 28, 2020 3:29 pm

नई दिल्ली। देशद्रोह का आरोपी और जेएनयू का छात्र शरजील इमाम को बिहार के जहानाबाद से गिरफ्तार किया गया। शरजील ने भड़काऊ भाषण दिया था जिसमें उसने असम को देश से अलग करने की बात कही थी। बता दें कि बिहार के जहानाबाद से शरजील को दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच और बिहार पुलिस ने मंगलवार दोपहर 3 बजे गिरफ्तार किया। जहानाबाद के एसपी ने शरजील इमाम की गिरफ्तारी की पुष्टि की है।

Sharjeel Imam Arrested

शरजील को गिरफ्तार करने के बाद फिलहाल पूछताछ के लिए उसे एक सफेद इनोवा कार में काको थाना ले जाया गया है। इस वक्त काको थाना में एसपी मनीष भी पहुंच गए और पूछताछ शुरू की। बिहार के जहानाबाद जिले में शरजील इमाम का मूल निवास है। शरजील के माता-पिता और भाई यहीं रहते हैं। रिपोर्ट के मुताबिक पिछले चार दिनों से शरजील इमाम जहानाबाद के आस-पास ही छिप रहा था।

रिपोर्ट के मुताबिक जहानाबाद पुलिस आज ही शरजील को एक मजिस्ट्रेट के सामने पेश करेगी, इसके बाद शरजील को ट्रांजिट रिमांड पर लेकर दिल्ली लाया जाएगा।

गौरतलब है कि भड़काऊ भाषण देने के आरोपी और जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के छात्र शरजील इमाम की गिरफ्तारी के लिए बिहार के जहानाबाद और पटना में लगातार छापेमारी की जा रही थी। इन सबके बीच पुलिस ने उसके भाई को हिरासत में लेकर पूछताछ भी की थी।

लगी थी ये धाराएं

शरजील के ऊपर जो धाराएं लगी हैं, उसमें आईपीसी की 124 ए, 153 ए और 505 ए धारा शामिल हैं। शरजील पर इन्हीं धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया है। इन धाराओं का इस्तेमाल शब्दों द्वारा अपराध, या तो बोला गया या लिखित रूप से कानून द्वारा स्थापित सरकार के खिलाफ असहमति। अलग धार्मिक समूहों के बीच दुश्मनी पैदा करने के इरादे से बयान देना या उन्हें बढ़ावा देना। सार्वजनिक उपद्रव के लिए जिम्मेदार बयान भी इसकी वजह हो सकते हैं।

Sharjeel Imam

सर काटने पर इनाम की घोषणा

शरजील के तमाम वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे थे जिसमें वो हिंदू-मुस्लिम और देश को तोड़ने की बात करता दिखाई दे रहा था। शरजील ने असम को देश से काटने की बात की थी।

sharjeel imam

शरजील इमाम को लेकर मचे बवाल के बीच उसका सर काटने पर इनाम की घोषणा की गई थी। बता दें कि प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) की युवजन सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित जानी ने शरजील इमाम की गर्दन काटने वाले को 1 करोड़ का इनाम देने की घोषणा की थी।