Connect with us

देश

PM Modi Video: सूरत में कुछ इस तरह हुआ PM मोदी का भव्य स्वागत, लगे मोदी-मोदी के नारे,जनता का प्यार देख गदगद हुए पीएम

PM Modi Video: पीएम मोदी इन दिनों गुजरात में ही हैं और आज उनकी चार रैलियां भी होनी है। आज पीएम मोदी कच्छ के अंजर विधानसभा, भावनगर के पालीताणा,राजकोट और जामनगर में चुनाव प्रचार करते दिखेंगे। इसी बीच पीएम मोदी ने एक वीडियो शेयर किया है

Published

नई दिल्ली।  गुजरात विधानसभा चुनाव में कुछ ही दिन का समय बाकी है और ऐसे में बीजेपी गुजरात का ताज अपने सिर सजाने के लिए कड़ी मेहनत कर रही हैं। खुद पीएम मोदी गुजरात के चुनावी मैदान में उतर चुके हैं और ताबड़तोड़ रैलियां कर रहे हैं। पीएम मोदी इन दिनों गुजरात में ही हैं और आज उनकी चार रैलियां भी होनी है। आज पीएम मोदी कच्छ के अंजर विधानसभा, भावनगर के पालीताणा,राजकोट और जामनगर में चुनाव प्रचार करते दिखेंगे। इसी बीच पीएम मोदी ने एक वीडियो शेयर किया है जिसमें उनके गुजरात के सूरत के रोड शो की कुछ झलकियां हैं।

पीएम मोदी ने शेयर किया वीडियो

पीएम मोदी ने जो वीडियो अपने आधिकारिक सोशल मीडिया पर शेयर किया है वो सूरत का है। सूरत में रोड शोज के दौरान पीएम मोदी की एक झलक देखने के लिए जनता बेताब दिखी। जैसे ही पीएम मोदी आते हैं वैसे ही लोग मोदी-मोदी के नारे लगाने शुरू कर देते हैं। वीडियो में देख सकते हैं कि कुछ लोग अपने घरों की बालकनियों पर तो कुछ बसों पर खड़े हैं और मोदी-मोदी के नारे लगा रहे हैं। पीएम मोदी भी जनता के इस प्यार का अभिवादन करते हुए हाथ हिला रहे हैं। वो भी इतने प्यार को देखकर गदगद हो रहे हैं। इस वीडियो को शेयर करते हुए पीएम मोदी ने कैप्शन में लिखा-सूरत में एक अविस्मरणीय शाम! यहाँ कल से हाइलाइट्स हैं। हमारे विकास के एजेंडे के कारण भाजपा लोगों की पसंदीदा बन चुकी है।


चुनावी समीकरण की दृष्टि से महत्वपूर्ण है सौराष्ट्र-कच्छ

गुजरात का चुनावी रण जीतने के लिए मैदान में सिर्फ पीएम मोदी ही नहीं बल्कि पार्टी के कई दिग्गज नेता भी उतर चुके हैं। आज केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी चुनाव प्रचार का हिस्सा होंगे। सौराष्ट्र-कच्छ विधानसभा चुनाव की सबसे महत्वपूर्ण सीट है क्योंकि यहां कुल गुजरात की विधानसभा सीट 182 में 54 सौराष्ट्र-कच्छ में आती हैं। ऐसे में अगर पार्टी सौराष्ट्र-कच्छ पर अपना दबदबा बना लिया तो आधी पार्टी की जीत तो तय हैं। 2017 के विधानसभा चुनावों में इसी क्षेत्र से पार्टी को कम सीटों से ही संतोष करना पड़ा था।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement