Connect with us

देश

UP News: आजादी के ‘अमृत महोत्सव’ में दिखेगा युवाओं का खेल कौशल, महोत्सव से जोड़ने का प्रयास

UP News: खेल उप निदेशक आरएन सिंह ने इस संबंध में बताया कि बीते दिनों मुख्यमंत्री के साथ हुई बैठक के बाद सभी जिलों को इस संबंध में पत्र जारी किया गया है। पत्र में सभी जिलों में अनिवार्य रूप से खेल प्रतियोगिताएं कराने का निर्देश है।

Published

on

नई दिल्ली। योगी सरकार ने प्रदेश में आजादी की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर मनाए जा रहे अमृत महोत्सव पर बड़े स्तर पर जश्न मनाने की तैयारी की है। ‘हर घर तिरंगा’ अभियान के माध्यम से हर वर्ग, हर तबके को जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। वहीं युवाओं की भागीदारी को भी सुनिश्चित किया गया है। इसके लिए खेल का माध्यम चुना गया है। खेल निदेशालय उत्तर प्रदेश की ओर से सभी मंडलों के क्षेत्रीय क्रीड़ा अधिकारियों और प्रभारी क्रीड़ा अधिकारियों को इस संबंध में एक पत्र जारी किया जा चुका है। पत्र में 15 अगस्त के दिन प्रत्येक जिले में खेल प्रतियोगिताएं कराने के निर्देश दिए गए हैं। किस जिले में कौन सा खेल आयोजित कराया जाएगा, यह संबंधित जिले के जिलाधिकारी तय करेंगे।

cm yogi 123

लोकप्रिय खेलों का आयोजन

खेल उप निदेशक आरएन सिंह ने इस संबंध में बताया कि बीते दिनों मुख्यमंत्री के साथ हुई बैठक के बाद सभी जिलों को इस संबंध में पत्र जारी किया गया है। पत्र में सभी जिलों में अनिवार्य रूप से खेल प्रतियोगिताएं कराने का निर्देश है। किस जिले में कौन से खेल की प्रतियोगिता होगी, यह जिलाधिकारी तय करेंगे। आमतौर पर जिस जिले में जो खेल ज्यादा खेला जाता है, जिसके खिलाड़ी और कोच ज्यादा होते हैं, उसी का आयोजन कराया जाता है, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों की भागीदारी सुनिश्चित हो इसकी मंजूरी दी जाती है। गौरतलब है कि बीते कुछ वर्षों में परंपरा के अनुसार सभी जिलों में क्रॉस कंट्री दौड़ का आयोजन किया जाता रहा है, लेकिन आजादी की 75वीं वर्षगांठ को वृहद स्तर पर मनाने का फैसला किया गया है इसलिए प्रयास है कि प्रत्येक जिले में अधिक से अधिक युवा इसमें भागीदारी करें।

75th Azadi Ka Amrat Mahotsav

सभी 75 जिलों में खेल प्रतियोगिता

ये पत्र उत्तर प्रदेश के 18 मंडलों में निदेशालय का कार्यभार देख रहे सभी प्रभारियों को भेजा गया है। जहां 8 मंडलों में क्षेत्रीय क्रीड़ा अधिकारी (आरएसओ) के पास प्रभार है तो वहीं, 10 मंडलों की जिम्मेदारी क्रीड़ा अधिकारियों के पास है। निदेशालय के अनुसार खेल प्रतियोगिता का निर्णय होने के बाद यह क्षेत्रीय क्रीड़ा अधिकारी और क्रीड़ा अधिकारी की जिम्मेदारी होगी कि उसमें खिलाड़ियों की अधिक से अधिक भागीदारी सुनिश्चित हो।

Advertisement
Advertisement
Yogi Adityanath
देश4 hours ago

UP News : गीता से मिलती है निष्काम कर्म की प्रेरणा, गीता प्रेस में आयोजित गीता जयंती समारोह में बोले मुख्यमंत्री योगी

देश5 hours ago

Delhi MCD Election: खत्म हुआ मतदान, अब नतीजों का इंतजार, 1349 उम्मीदवारों की किस्मत EVM में कैद

खेल5 hours ago

FIFA 2022 : नॉकआउट मुकाबले में जीत के साथ फ्रांस नौवीं बार विश्व कप के क्वार्टर फाइनल में, एम्बाप्पे और जिरूड ने दिखाया शानदार खेल, पोलैंड हुई बाहर

बिजनेस5 hours ago

Share Market News : अरबपति निवेशक राधाकिशन दमानी ने VST इंडस्ट्रीज से घटाई अपनी हिस्सेदारी, ब्लॉक डील के जरिए बेच डाले पूरे 33 करोड़ रुपये के शेयर

खेल5 hours ago

Ind vs Ben: बांग्लादेश से मिली शर्मनाक हार से टीम इंडिया पर भड़के फैंस, सोशल मीडिया पर जमकर की खिंचाई

Advertisement