UP: स्वामी प्रसाद को सपा में शामिल कर बुरे फंसे अखिलेश, लखनऊ पुलिस ने किया केस दर्ज, जानिए पूरा मामला

UP Election 2022: दरअसल, कोरोना महामारी को देखते हुए 15 जनवरी तक प्रदेश में रैलियां या किसी भी तरह के चुनावी कार्यक्रम पर रोक लगाई है। लेकिन स्वामी प्रसाद के साथ कई भाजपा के बागी नेताओं के शामिल करवाने के दौरान भारी भीड़ देखी गई। इतना ही नहीं कोरोना के नियमों की जमकर धज्जियां उड़ाई गई।

Written by: January 14, 2022 5:41 pm

नई दिल्ली। यूपी विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) से पहले भारतीय जनता पार्टी (BJP) से इस्तीफा देकर सियासी गलियारों में चर्चा के बाजार को गुलजार करने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य समेत पार्टी के 6 बागी विधायकों ने समाजवादी साइकिल पर सवार हो गए है। हालांकि, स्वामी के इस्तीफे देने के तुरंत बाद ही अखिलेश यादव ने उनके साथ ट्विटर पर अपनी तस्वीर साझा कर इस बात की अनाधिकृत पुष्टि कर ही दी थी कि अब स्वामी सपा में शामिल होने का मन बना चुके हैं। लेकिन इसे लेकर अंतिम प्रतिपुष्टि करने से बचा जा रहा था। वहीं, आज स्वामी समेत 6 बागी विधायक सपा की साइकिल पर सवार हो ही गए। स्वामी प्रसाद मौर्य के सपा में शामिल होते ही अखिलेश यादव मुश्किल में फंस गए हैं।

Sp

दरअसल, कोरोना महामारी को देखते हुए 15 जनवरी तक प्रदेश में रैलियां या किसी भी तरह के चुनावी कार्यक्रम पर रोक लगाई है। लेकिन स्वामी प्रसाद के साथ कई भाजपा के बागी नेताओं के शामिल करवाने के दौरान भारी भीड़ देखी गई। इतना ही नहीं कोरोना के नियमों की जमकर धज्जियां उड़ाई गई। जिसको लेकर अब लखनऊ के डीएम ने बड़ी कार्रवाई करते हुए जांच के आदेश दे दिए हैं। खबर है कि सपा दफ्तर में भारी भीड़ को लेकर लखनऊ पुलिस ने महामारी एक्ट के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। कोरोना नियमों को ताक पर रखते हुए सपा के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज किया है। बता दें कि स्वामी के अलावा धर्म सिंह सैनी, भगवती सागर, विनय शाक्य, रोशनलाल वर्मा, मुकेश वर्मा, बृजेश कुमार प्रजापति, चौधरी अमर सिंह के सपा में शामिल होने के दौरान भारी संख्या में लोगों का मजमा दिखा। वहीं, अब इस मामले में बड़ी खबर यह भी सामने आई है कि जिस तरह से महामारी के नियमों की धज्जियां उड़ाई गई है, उसे लेकर सपा के तकरीबन 2 हजार कार्यकर्ताओं के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। वीडियो ग्राफी करवाई गई, जो भी वीडियो में चिन्हित होगा उसके खिलाफ नामजद मुकदमा लिखा जाएगा। आज सपा कार्यालय पर बीजेपी के बागी नेता व विधायको की जॉइनिंग को लेकर किया गया था कार्यक्रम। धारा 144 , 269, 270,  महामारी एक्ट के तहत दर्ज हुवा मुकदमा। 341, 188, , 54 आपदा प्रबंधन अधिनियम 3 महामारी अधिनियम। गौतम पल्ली थाने पर दर्ज किया गया अज्ञात समाजावादी पार्टी कार्यकर्ताओं पर मुकदमा।

Swami Prasad

लखनऊ के डीएम अभिषेक प्रकाश ने बताया कि, सपा का कार्यक्रम बिना अनुमति के हुआ। वहीं सूचना मिलने पर मजिस्ट्रेट के साथ पुलिस टीम को सपा दफ़्तर भेजा गया। इसके साथ उन्होंने ये भी कहा कि रिपोर्ट के आधार पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

बता दें कि उत्तर प्रदेश में 7 चरणों में विधानसभा के चुनाव होंगे। पहले चरण का मतदान 10 फरवरी को होगा, जबकि 14 फरवरी को दूसरे का चरण का मतदान डाले जाएंगे। इसके अलावा 20 फरवरी को तीसरे चरण, 23 फरवरी को चौथे चरण, 27 फरवरी को पांचवें चरण, तीन मार्च को छठे चरण और सात मार्च को सातवें और आखिरी चरण का वोटिंग होगी। वहीं 10 मार्च को चुनाव के नतीजे घोषित किए जाएंगे।

Support Newsroompost
Support Newsroompost