Connect with us

देश

Rajbhar: ‘6 करोड़ रुपए लेकर मुख्तार अंसारी के बेटे को दिया था टिकट’, राजभर पर उनकी ही पार्टी के नेता ने लगाया ये सनसनीखेज आरोप

बता दें कि अभयनंदन ने महासचिव पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने इस्तीफा देने के बाद ओम प्रकाश राजभर पर ये आरोप लगाया है। उन्होंने यहां तक कहा कि ओमप्रकाश राजभर में सियासी समझ की कमी बताया है। उन्होंने कहा कि जहां पार्टी का बिल्कुल भी जनाधार नहीं है। कार्यकर्ता पूरी तरह से निष्क्रिय हैं।

Published

on

Om Parkash Rajbhar

नई दिल्ली। किसी ना किसी मसले को लेकर बीजेपी को सवालिया कठघरे में खड़ा करने वाले सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के प्रमुख ओमप्रकाश राजभर को इस बार उनके ही पार्टी के देवरिया से महासचिव अभयनंदन बरनवाल ने सवालिया कठघरे में खड़ा कर दिया है। दरअसल, अभयनंदन ने ओमप्रकाश राजभर पर आरोप लगाया है कि वो पैसे लेकर लोगों के बीच टिकट वितरित करते हैं। इतना ही नहीं, उन्होंने सुहलदेव पर 6 करोड़ रुपए लेकर मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी को टिकट देने का आरोप लगाया है। हालांकि, अभी तक इन आरोपों को लेकर ओमप्रकाश राजभर की ओर से कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है।

बता दें कि अभयनंदन ने महासचिव पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने इस्तीफा देने के बाद ओम प्रकाश राजभर पर ये आरोप लगाया है। उन्होंने यहां तक कहा कि ओमप्रकाश राजभर में सियासी समझ की कमी बताया है। उन्होंने कहा कि जहां पार्टी का बिल्कुल भी जनाधार नहीं है। कार्यकर्ता पूरी तरह से निष्क्रिय हैं। उन्होंने वहां टिकट वितरण किया, जो कि बिल्कुल भी सही नहीं है। ओम प्रकाश को जहां टिकट देनी चाहिए, वहां उन्होंने नहीं दिय़ा और जहां नहीं देना चाहिए था, वहां दे दिया। यही एक कारण है कि आज सुभासपा की दुर्गति अपने चरम पर पहुंच चुकी है और ओम प्रकाश राजभर पार्टी के हित में कोई भी कदम नहीं उठा पा रहे हैं।

Om Prakash Rajbhar party SBSP more than 25 leaders from Ballia left the  party - सुभासपा प्रमुख ओम प्रकाश राजभर की एक बार फिर बढ़ी मुश्किलें, बलिया  में 25 से अधिक नेताओं

इतना ही नहीं, अभयनंदन ने कहा कि ओम प्रकाश राजभर चुनाव जीतने के लिए किसी दलों के साथ गठबंधन करते हैं और जब चुनाव हार जाते हैं, तो अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल करते हैं। यही नहीं, ओम प्रकाश राजभर अपने राजनीतिक प्रतिद्वंदियों पर अर्नगल आरोप लगाते हैं, जिसमें किसी भी प्रकार का आधार नहीं है। हालांकि, अभी तक इन आरोपों पर ओम प्रकाश राजभर की ओर से कोई भी प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है। अब ऐसे में सभी को इस बात का इंतजार रहेगा कि उनके इन आरोपों पर लोगों की ओर से क्या कुछ प्रतिक्रिया सामने आती है। इस पर सभी की निगाहें टिकी रहेंगी। तब तक के लिए आप देश दुनिया की तमाम बड़ी खबरों से रूबरू होने के लिए पढ़ते रहिए। न्यूज रूम पोस्ट.कॉम

Advertisement
Advertisement
Advertisement