बैन होने के बाद टिकटॉक ने दी सफाई, कहा- हमने यूजर की जानकारी किसी से शेयर नहीं की, चीन से भी नहीं

केंद्र सरकार ने 29 जून को अपने फैसले की जानकारी देते हुए बताया कि इन ऐप के गलत इस्तेमाल की जानकारी हमें मिल रही थी, यूजर्स की डेटा भारत से बाहर दूसरे देशों में ट्रांसफर किया जा रहा है।

Written by: June 30, 2020 11:05 am

नई दिल्ली। भारत सरकार ने रक्षा, सुरक्षा और निजता को खतरा बताते हुए सोमवार को 59 चाइनीज App को बैन करने का फैसला किया, जिसमें फेमस एप्लीकेशन टिकटॉक भी शामिल है। इस फैसले के बाद अब मंगलवार को टिकटॉक की तरफ से ट्विटर पर सफाई दी गई है। टिकटॉक के इंडिया हेड निखिल गांधी ने कहा कि भारतीय यूजर की जानकारी हमने किसी से भी शेयर नहीं की।

TIKTOK

निखिल गांधी ने कहा कि, ”सरकार के आदेश का पालन किया जा रहा है, हमारी तरफ से किसी भी यूजर की जानकारी दूसरे देश, यहां तक कि चीन को भी नहीं दी गई है।”

टिकटॉक की तरफ से कहा गया है कि सरकार ने उनसे स्पष्टीकरण मांगा था। निखिल गांधी ने कहा, ”भारत सरकार ने 59 ऐप ब्लॉक करने का फैसला लिया है, जिसमें टिकटॉक भी शामिल है, हम इस आदेश का पालन करने की प्रक्रिया में हैं। हमें सरकार के संबंधित विभागों की तरफ से बुलाया गया था और सफाई देने का मौका दिया गया था।” निखिल गांधी ने ये भी कहा कि हम यूजर की प्राइवेसी और इंटीग्रेटी को सबसे ऊपर रखते हैं।

TIKTOK

बता दें कि केंद्र सरकार ने 29 जून को अपने फैसले की जानकारी देते हुए बताया कि इन ऐप के गलत इस्तेमाल की जानकारी हमें मिल रही थी, यूजर्स का डेटा भारत से बाहर दूसरे देशों में ट्रांसफर किया जा रहा है। इसलिए देश की रक्षा, सुरक्षा, संप्रभुता, अखंडता और लोगों की निजता को ध्यान में रखते हुए 59 ऐप पर बैन लगाने का फैसला लिया गया है।

chines app

आईटी एक्ट की धारा 69-A के तहत केंद्र सरकार ने ये फैसला किया है। सरकार ने कहा है कि ये ऐप भारत की संप्रभुता और अखंडता के लिए खतरा थे, इसलिए मोबाइल और नॉन-मोबाइल इंटरनेट डिवाइस में इन्हें बैन किया गया है।