UK ने पीएम मोदी को भेजा G-7 शिखर सम्मेलन में शामिल होने का न्यौता

G-7 Summit: इस बार के गणतंत्र दिवस(Republic Day) पर मुख्य अतिथि के रूप में बोरिस जॉनसन शामिल होने वाले थे। लेकिन बाद में ब्रिटेन में बने हालात को लेकर ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन(Boris Johnson) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(PM Narendra Modi) से बात की और भारत आने में अपनी असमर्थता जाहिर की।

Avatar Written by: January 17, 2021 3:05 pm
Boris Johnson and Narendra Modi

नई दिल्ली। जनवरी में बोरिस जॉनसन को गणतंत्र दिवस के मौके पर भारत आना था लेकिन ब्रिटेन में कोरोना के नए स्ट्रेन को देखते हुए उन्होंने अपना ये दौरा रद्द कर दिया। फिलहाल ब्रिटेन की तरफ से अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को यूके के लिए आमंत्रित किया गया है। बता दें कि यह आमंत्रण G-7 शिखर सम्मेलन के लिए है, जोकि जून 2021 में होगा। वहीं भारत आने को लेकर यूके के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा है कि वह भारत का दौरा जी-7 शिखर सम्मेलन से पहले करेंगे। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि ‘दुनिया की फार्मेसी’ के रूप में, भारत पहले से ही दुनिया के 50% से अधिक टीकों की आपूर्ति कर रहा है, और महामारी के दौरान यूके और भारत ने एक साथ मिलकर इस महामारी में काम किया है। बता दें कि बता दें कि कोरोना वायरस के खतरनाक स्ट्रेन के मामले ब्रिटेन में तेजी के साथ बढ़ रहे हैं, ऐसे में वहां लॉकडाउन लगाया गया है।

narendra modi and Boris Johnson

अपना भारत दौरा रद्द करने के दौरान पीएम मोदी से बातचीत में ब्रिटेन के पीएम जॉनसन ने कहा था कि कोरोना के हालातों को देखते हुए उनके लिए यूके में रहना जरूरी है ताकि वह वायरस को रोकने के लिए ध्यान केंद्रित कर सकें। गौरतलब है कि बता दें कि इसी माह ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन का भारत दौरा रद्द हुआ है।

दरअसल, इस बार के गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि के रूप में बोरिस जॉनसन शामिल होने वाले थे। लेकिन बाद में ब्रिटेन में बने हालात को लेकर ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की और भारत आने में अपनी असमर्थता जाहिर की। डाउनिंग स्ट्रीट के एक प्रवक्ता ने बताया कि पीएम ने प्रधानमंत्री मोदी से बात की और कहा कि वह इस महीने के अंत में भारत का दौरा करने में असमर्थ होंगे।

Support Newsroompost
Support Newsroompost