Miss India Runner-up से मिलेंगे CM योगी, रिक्शा चालक की बेटी ने राज्य को पहनाया था सम्मान का ताज़

UP government: मान्‍या(Manya singh) के पिता कहते हैं कि मैं साल 1992 से मुम्‍बई में ऑटो चला रहा हूं। यूपी में 10 वीं की पढ़ाई करने के बाद आगे की पढ़ाई मुम्‍बई से मान्‍या को कराई। लेकिन अब प्रदेश में योगी सरकार(Yogi Government) की नीतियों से काफी सकारात्‍मक बदलाव देखने को मिल रहें हैं।

Avatar Written by: February 23, 2021 8:02 pm
Manya singh UP Yogi

लखनऊ। प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ यूपी को अपने हुनर से मान की पगड़ी पहनाने वाली दोनों बेटियों से जल्‍द मुलाकात करेंगें। फेमिना मिस इंडिया 2020 की रनरअप चुनी गई मान्‍या सिंह और मेरठ की रहने वाली एथलीट प्रियंका गोस्‍वामी से सीएम जल्‍द ही मुलाकात करेंगें। एक साधारण से परिवार के मां बाप के लिए गौरव का पल वो होता है जब उनके बच्‍चे अपने सपनों को साकार कर उनको मान की पगड़ी पहनाते हैं। यूपी की इन दोनों बेटियों ने अपने अभिभावकों संग प्रदेशवासियों को भी अपने हुनर के बूते सम्‍मान का ताज पहनाया है। फेमिना मिस इंडिया 2020 की रनरअप चुनी गई मान्‍या सिंह ने भी अपनी मेहनत लगन से माता पिता के साथ उत्‍तर प्रदेश का नाम रोशन किया है। देवरिया के रहने वाले ऑटोरिक्‍शा ड्राइवर ओम प्रकाश सिंह अपनी बेटी के लिए बेहद खुश हैं। उन्‍होंने कहा कि मेरी और मान्‍या की तमन्‍ना थी कि हम लोग हमारे आदर्श मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ से मुलाकात करें। हमारा सौभाग्य है कि अब हम लोग उनसे मुलाकात करेंगें। आज प्रदेश में योगी सरकार की स्‍वर्णिम योजनाओं व मिलने वाली सुविधाओं के कारण ही मान्‍या जैसी अन्‍य दूसरी बेटियों के सपनें अपने प्रदेश में साकार हो रहें हैं।

प्रदेश की महिला खिलाड़‍ियों के लिए आदर्श बनी प्रियंका

मेरठ की रहने वाली एथलीट प्रियंका गोस्‍वामी को बीते दिनों रानी लक्ष्‍मी बाई अवार्ड के लिए भी चुना गया है। खेल जगत में महिलाओं के लिए आदर्श बनने वाली प्रियंका ओलंपिक के लिए क्‍वालिफाई भी हो गई हैं। प्रदेश की महिला खिलाड़‍ियों के लिए प्रेरणा बनने वाली प्रियंका गोस्‍वामी की मेहनत व समपर्ण का ही नतीजा है कि सफलता हासिल कर प्रदेश को गौरान्वित किया है।

Manya Singh

योगी सरकार की नीतियों से युवाओं के सपनें हो रहे साकार

मान्‍या के पिता कहते हैं कि मैं साल 1992 से मुम्‍बई में ऑटो चला रहा हूं। यूपी में 10 वीं की पढ़ाई करने के बाद आगे की पढ़ाई मुम्‍बई से मान्‍या को कराई। लेकिन अब प्रदेश में योगी सरकार की नीतियों से काफी सकारात्‍मक बदलाव देखने को मिल रहें हैं। योगी सरकार ने एक ओर जहां अभ्‍युदय कोचिंग तो वहीं यूपी में फिल्‍म सिटी के निर्माण से प्रदेश के युवाओं को अपने सपनों को साकार करने का अवसर दिया है। जिससे निश्चित तौर पर प्रदेश के युवाओं व युवतियों को मदद सीधे तौर पर मिलेगी।

मान्‍या के पिता ने कहा कि प्रदेश के मुखिया से मिलना हमारा सौभाग्य होगा। उन्‍‍होंने बताया कि सीएम योगी आदित्‍यनाथ से मिलने की तमन्‍ना हम लोगों की बरसों से थी जो मान्‍या के कारण अब पूरी होगी। उन्‍होंने कहा कि जब मान्‍या मिस यूपी चूनी गई तो वो हम सबके लिए वो गौरव का पल था।

Support Newsroompost
Support Newsroompost