उत्तर प्रदेश में ‘ऑपरेशन क्लीन’, 10 दिन में पुलिस ने किए ताबड़तोड़ 24 एनकाउंटर

ताबड़तोड़ हो रहे एनकाउंटर पर एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि प्रदेश में अपराध के प्रति पुलिस ने जीरो टॉलरेंस की नीति के तहत कार्रवाई शुरू की है।

Written by: July 12, 2020 3:26 pm

नई दिल्ली। कानपुर के चौबेपुर में सीओ समेत 8 लोगों की हत्या के बाद यूपी पुलिस ने अपना रौद्र रूप धारण कर लिया है। कानपुर कांड के 8 दिन बाद यूपी पुलिस ने इस घटना के मुख्य आरोपी विकास दुबे को मुठभेड़ में मार गिराया। इस घटना के बाद से एक्टिव मोड में आई यूपी पुलिस ने पिछले दस दिनों में ताबड़तोड़ 24 से ज्यादा एनकाउंटर को अंजाम दिया है।

kanpur police new

गौरतलब है कि कानपुर हत्याकांड के बाद से प्रदेश भर में चलाए जा रहे ‘ऑपरेशन क्लीन’ के तहत दो दर्जन से ज्यादा एनकाउंटर हुए हैं। इसमें दुर्दांत विकास दुबे समेत 10 अपराधी मारे गए जबकि 15 से ज्यादा घायल हुए। 2-3 जुलाई की रात आठ पुलिसकर्मियों की शहादत के बाद से मुख्यमंत्री सीएम योगी आदित्यनाथ की नाराजगी का असर देखने को मिला।

Kanpur Encounter

पुलिस ने विकास दुबे समेत उसके गैंग के प्रेम प्रकाश पांडे, अतुल दुबे, अमर दुबे, प्रभात मिश्रा और प्रवीण को मुठभेड़ में ढेर कर दिया। इसके अलावा भदोही में वांछित अपराधी दीपक गुप्ता, अलीगढ में इनामी बदमाश बबलू और बहराइच में गोरखपुर निवासी व 50 हजार का इनामी पन्ना यादव मुठभेड़ में मार गिराया गया।

Yogi adityanath

ताबड़तोड़ हो रहे एनकाउंटर पर एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि प्रदेश में अपराध के प्रति पुलिस ने जीरो टॉलरेंस की नीति के तहत कार्रवाई शुरू की है। उन्होंने कहा कि इसी के तहत कार्रवाई की जा रही है और किसी भी अपराधी को बख्सा नहीं जाएगा। दरअसल, कानपुर कांड के बाद से नाराज चल रहे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को जिलेवार अपराधियों की लिस्ट बनाकर उनके खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। जिसके बाद कई जिलों की पुलिस ने थानेवार टॉप-10 अपराधियों की लिस्ट तैयार कर उनके खिलाफ कार्रवाई कर रही है।