विशाखापट्टनम में जहरीली गैस का रिसाव हुआ बंद, 8 लोगों की मौत, 3000 लोग रेस्क्यू

एहतियात के तौर पर स्थानीय प्रशासन और नेवी ने फैक्ट्री के पास के गांवों को खाली करा लिया है। हालांकि इस रिसाव पर घंटों मेहनत के बाद 10 बजे तक काबू पा लिया गया है।

Avatar Written by: May 7, 2020 8:20 am

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश विशाखापट्टनम में एक फार्मा कंपनी में जहरीली गैस लीक होने से पूरे शहर में तनाव का माहौल बना हुआ है। गुरुवार सुबह हुए इस हादसे में अबतक 8 लोगों की मौत हो चुकी है। एहतियात के तौर पर स्थानीय प्रशासन और नेवी ने फैक्ट्री के पास के गांवों को खाली करा लिया है। हालांकि इस रिसाव पर घंटों मेहनत के बाद 10 बजे तक काबू पा लिया गया है।

Viskhapattanam

आपको बता दें कि आरआर वेंकटपुरम में स्थित विशाखा एलजी पॉलिमर कंपनी से खतरनाक जहरीली गैस का रिसाव हुआ है। इस जहरीली गैस के कारण फैक्ट्री के तीन किलोमीटर के इलाके प्रभावित हैं। फिलहाल, पांच गांव खाली करा लिए गए। इस गैस की वजह से सैकड़ों लोग सिर दर्द, उल्टी और सांस लेने में तकलीफ के साथ अस्पताल पहुंच रहे हैं।

Andhra pradesh Gas Leakage LG

इस हादसे में कई लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है। इसमें अधिकतर बुजुर्ग और बच्चे हैं। बताया जा रहा है कि सरकारी अस्पताल में 150-170 लोग भर्ती कराए गए हैं। इसके अलावा कई लोगों को गोपालपुरम के प्राइवेट अस्पताल में भी भर्ती कराया गया है, वहीं तैयारी की नजर से 1500-2000 बेड की व्यवस्था कर ली गई है।

विशाखापट्टनम नगर निगम के कमिश्नर श्रीजना गुम्मल्ला ने कहा कि शुरुआती रिपोर्ट के अनुसार पीवीसी या स्टेरेने गैस का रिसाव हुआ है। रिसाव की शुरुआत सुबह 2.30 बजे हुई। गैस रिसाव की चपेट में आस-पास के सैकड़ों लोग आ गए और कई लोग बेहोश हो गए, जबकि कुछ लोगों को सांस लेने में दिक्कत हो रही है।

Andhra pradesh Gas Leakage

हालांकि गैस कैसे लीक हुई, इसके पीछे के कारण का पता नहीं चल पाया है। फिलहाल मौके पर विशाखापट्टनम के जिलाधिकारी वी विनय चंद पहुंच गए हैं और हालात पर नजर बनाए हुए हैं। उनका कहना है कि दो घंटे के अंदर हालत को नियंत्रण में कर लिया गया। कुछ लोगों को सांस लेने में दिक्कत हो रही है, उन्हें ऑक्सीजन सपोर्ट दिया जा रहा है।

हालत की गंभीरता को देखते हुए मौके पर एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें भी लगाई गई हैं और गांवों से लोगों को बाहर निकाला जा रहा है। पुलिस अधिकारी लोगों से घर से बाहर निकलने की अपील कर रहे हैं और सुरक्षित जगह जाने को कह रहे हैं। साथ ही लोगों से प्रभावित इलाकों में न जाने की अपील भी की जा रही है।