West Bengal: ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक की पत्नी से CBI की टीम ने की पूछताछ

West Bengal: कोयला तस्करी मामले में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (CM Mamata Banerjee) के परिवार पर सीबीआई की कार्रवाई से राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई हैं। सीबीआई मंगलवार को इस घोटाले में टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी की पत्नी रुजिरा बनर्जी से पूछताछ करेंगी।

आईएएनएस Written by: February 23, 2021 11:30 am
cbi-rujira

नई दिल्ली। कोयला तस्करी मामले में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (CM Mamata Banerjee) के परिवार पर सीबीआई की कार्रवाई से राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई हैं। तृणमूल कांग्रेस के सांसद अभिषेक बनर्जी (TMC leader Abhishek Banerjee) की पत्नी रुजिरा बनर्जी से कोयले की अवैध तस्करी मामले में पूछताछ करने के लिए केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के अधिकारियों की एक टीम उनके घर पहुंची। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी के अपने भतीजे अभिषेक के घर से निकलने के कुछ देर बाद ही यहां सीबीआई की टीम पहुंच गई थी।

ममता बनर्जी यहां करीब 10 मिनट रुकी थीं। सीबीआई ने पिछले साल नवंबर में दर्ज हुए मामले के संबंध में पूछताछ करने के लिए रविवार को रुजीरा को नोटिस दिया था। एजेंसी ने कोयला चोरी के मामले में रुजिरा की भूमिका को पाया है। हालांकि मामले में उसे आरोपी नहीं बनाया गया है। इससे पहले सोमवार को सीबीआई की 8 सदस्यीय टीम ने इसी सिलसिले में रूजीरा की बहन मेनका गंभीर से ढाई घंटे तक पूछताछ की थी।

सीबीआई ने पिछले साल नवंबर में दर्ज हुए मामले के संबंध में पूछताछ करने के लिए रविवार को रुजीरा को नोटिस दिया था। एजेंसी ने कोयला चोरी के मामले में रुजिरा की भूमिका को पाया है। हालांकि मामले में उसे आरोपी नहीं बनाया गया है। इससे पहले सोमवार को सीबीआई की 8 सदस्यीय टीम ने इसी सिलसिले में रूजीरा की बहन मेनका गंभीर से ढाई घंटे तक पूछताछ की थी।

Mamata Banerjee
बता दें कि सीबीआई ने कोयला माफिया अनूप माझी उर्फ लाला, उसके सहयोगी जे. मंडल और अन्य अज्ञात लोगों के खिलाफ कोयला चोरी का मामला दर्ज किया था। इसमें ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड के कुछ कर्मचारी भी शामिल हैं। आरोप है कि माझी ने कुन्होरिया और कजोरिया इलाकों में ईसीएल की लीज वाली खदानों से कोयले की चोरी की थी। कोयला तस्करी के रैकेट को पकड़ने के लिए पिछले साल 28 नवंबर को पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड और उत्तर प्रदेश के 45 स्थानों पर छापे मारे गए थे।

Support Newsroompost
Support Newsroompost