Connect with us

देश

Yogi Govt: योगी सरकार ने किया बाबर के परिजनों को 2 लाख का मुआवजा देने का ऐलान, BJP की जीत की खुशी में बांटी थी मिठाई, तो गंवानी पड़ी थी जान

Yogi government: योगी सरकार की तरफ बाबर के परिजनों को 2 लाख रूपए की आर्थिक सहायता दिए जाने का ऐलान किया जा चुका है।  वहीं, इस मामले को लेकर सूबे का सियासी पारा अपने चरम पर पहुंच चुका है। बता दें कि बाबर को बचाने की पूरी कोशिश की गई थी।

Published

Babar

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में बीजेपी की जीत के बाद मिठाई बांटकर अपनी खुशी का इजहार करने वाले बाबर को उसके रिश्तेदारों ने मौत के घाट उतार दिया था। बाबर के रिश्तेदारों को यह रास नहीं आई कि आखिर वो कैसे बीजेपी की जीत की खुशी में मिठाई बांट सकता है। लिहाजा उन्होंने पहले तो बाबर को खूब मारा पीटा, लेकिन जब लगा कि अब उसकी हालत खराब हो गई है, तो उसे फौरन अस्पताल पहुंचाया, लेकिन उपचार के दौरान ही बाबर ने दम तोड़ दिया। वहीं, जैसे ही सूबे की सियासी गलियारों में लोगों को बाबर के मौत की खबर लगी, तो किसी ने पुलिस से सख्त कार्रवाई की मांग, तो किसी ने बाबर को इंसाफ दिलाने के लिए गुहार लगाई। उधर, फिलहाल योगी सरकार की सक्रियता के फलस्वरूप बाबर मामले की जांच शुरू की जा चुकी है।

Babar

वहीं, योगी सरकार की तरफ बाबर के परिजनों को 2 लाख रूपए की आर्थिक सहायता दिए जाने का ऐलान किया जा चुका है।  वहीं, इस मामले को लेकर सूबे का सियासी पारा अपने चरम पर पहुंच चुका है। बता दें कि बाबर को बचाने की पूरी कोशिश की गई थी। पहले उसे उपचार हेतु जिला अस्पताल लाया गया था, लेकिन जब वहां भी उसकी हालत में किसी भी प्रकार का सुधार नहीं दर्ज किया गया, तो उसे राजधानी लखनऊ स्थित अस्पताल में रेफर किया गया, जहां उसने उपचार के दौरान ही दम तोड़ दिया। उधर, मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बाबर के रिश्तेदार इस बात से खफा थे कि आखिर वो कैसे बीजेपी का प्रचार कर सकता है। आखिर कैसी बीजेपी के समर्थन में नारेबाजी कर सकता है।

cm yogi 1233

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, 10 मार्च यानी की नतीजों के दिन बाबर ने बीजेपी की जीत की खुशी में मिठाई बांटी थी, बम, पटाखे फोड़कर अपनी खुशी का इजहार किया था, जिससे खफा हुए उसके रिश्तेदारों ने उसे हमेशा के लिए मौत की नींद सुला दिया। उधर, बाबर की पत्नी और बच्चे लगातार पुलिस-प्रशासन सुरक्षा की मांग कर रहे हैं। उनका कहना है कि उनका जान को खतरा है। कुछ लोग अब उन्हें भी निशाना बनाने पर तुले हुए हैं। लिहाजा यह मुनासिब रहेगा कि उन्हें भी सुरक्षा मुहैया कराई जाए। फिलहाल पुलिस सहित अन्य जांच एजेंसियों की तरफ से इस पूरे मामले की जांच जारी है और पूरी उम्मीद है कि आगामी दिनों में उक्त प्रकरण में संलिप्त सभी आरोपितों को धर दबोज लिया जाएगा।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement