Connect with us

लाइफस्टाइल

Janmashtami 2022: जन्माष्टमी पर जानें वो प्रसिद्ध मंदिर जहां आज भी मौजूद हैं श्रीकृष्ण की स्मृतियां

Janmashtami 2022: अष्टमी तिथि 18 अगस्त को शुरू होकर 19 अगस्त को समाप्त हो जाएगी। इस अवसर पर देश के सबसे प्रसिद्ध श्रीकृष्ण मंदिरों में जाकर उनके दर्शन अवश्य करने चाहिए, तो आइये जानते हैं कौ से हैं वो मंदिर जहां पर हर कृष्‍ण भक्त को एक बार जरूर जाना चाहिए।

Published

नई दिल्ली। भगवान श्री कृष्ण का जन्मोत्सव इसी सप्ताह मनाया जाएगा। ये पर्व 19 अगस्त 2022 को पड़ रहा है। हालांकि, अष्टमी तिथि 18 अगस्त को शुरू होकर 19 अगस्त को समाप्त हो जाएगी। इस अवसर पर देश के सबसे प्रसिद्ध श्रीकृष्ण मंदिरों में जाकर उनके दर्शन अवश्य करने चाहिए, तो आइये जानते हैं कौ से हैं वो मंदिर जहां पर हर कृष्‍ण भक्त को एक बार जरूर जाना चाहिए।

1.केशव मंदिर, मथुरा- ये मंदिर उस स्थान पर बनाया गया है जहां कारागार था, जिसमें श्रीकृष्ण ने जन्म लिया था।

2. वृदावन का मंदिर- यहां पर स्थित बांके बिहारी का प्रसिद्ध मंदिर भारत के प्राचीन और प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है। यहां के सारे घाट और मंदिर श्रीकृष्ण की स्मृतियों से जुड़े हैं।

3.बरसाना का राधा- कृष्ण मंदिर- ये राधा रानी के गांव बरसाने में एक पहाड़ी पर बना मंदिर है।

4.गोकुल- ये नंदबादा और मां यशोदा का घर है, जिसे मंदिर बना दिया गया है। यहां के सभी घाट दर्शनीय है।

5.गोवर्धन क्षेत्र- ये वो पर्वत है जिसे श्रीकृष्‍ण ने अपनी कनिष्ठा उंगली पर उठाया था।

6.द्वारिका का मंदिर- मथुरा छोड़ने के बाद भगवान कृष्ण ने गुजरात के समुद्री तट पर स्थित नगर कुशस्थली में द्वारिका नामक एक भव्य नगर बसाया था, जहां अब श्री द्वारकाधीश का मंदिर बना दिया गया है।

7.भालका तीर्थ- गुजरात स्थित ये वो स्थान है, जहां विश्राम करते श्री कृष्ण को एक बहेलिए ने अनजाने में तीर मार दिया था।

8.जगन्नाथ मंदिर- इस स्थान पर भगवान कृष्ण द्वापर युग के बाद अपने बड़े भाई बलभद्र और बहन सुभद्रा के साथ रहने लगे थे।

9.सांदीपनि आश्रम उज्जैन- मध्यप्रदेश में स्थित इस स्थान पर श्री कृष्ण ने सांदीपनि आश्रम में रहकर उनसे शिक्षा ग्रहण की थी।

10.पंढरपुर का विठोबा मंदिर- महाराष्ट्र राज्य में स्थित इस मंदिर में विठोबा के रूप में भगवान श्रीकृष्ण की पूजा की जाती है।

11.सांवरिया सेठ का मंदिर- श्रीकृष्ण के सांवरिया सेठ नाम की कथा सुदामा से जुड़ी है।

12. रणछोड़राय मंदिर- श्रीकृष्ण का रणछोड़ नाम पड़ने के कारण ये मंदिर राजस्थान गुजरात में बनाया गया, जो दर्शनीय है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement