Connect with us

खेल

Harsha Bhogle: दीप्ति शर्मा रन आउट मामले में हर्ष भोगले ने इंग्लैंड की जमकर लगाई ऐसी क्लास, अब वायरल हो रहा है ट्वीट

गलत को बाकी क्रिकेट जगत द्वारा गलत माना जाना चाहिए, बहुत कुछ “लाइन” की तरह ऑस्ट्रेलियाई कहते हैं कि आपको यह तय करने के बाद पार नहीं करना चाहिए कि वह कौन सी रेखा होनी चाहिए जो उनकी संस्कृति में ठीक हो लेकिन दूसरों के लिए नहीं हो सकती है। बाकी दुनिया अब बाध्य नहीं है

Published

on

नई दिल्ली। यूं तो क्रिकेट की दुनिया में कभी किसी बल्लेबाज के बल्ले से हुई रनों की बरसात तो कभी किसी गेंदबाजी के पिटने की खबर सुर्खियों के सैलाब में सराबोर तो रहती ही है, लेकिन आज इस रिपोर्ट में हम आपको क्रिकट जगत से जुड़े एक ऐसे विवाद के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसने बीते दिनों खबरों की दुनिया में बहस का बाजार गर्म कर दिया है। दरअसल, भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने वनडे सीरीज में 3-0 से क्लीन स्वीप कर इंग्लैंड को धूल चटाई। यह मैच लॉर्डस में खेला गया था। टीम इंडिया की दीप्ति शर्मा ने इंग्लैंड की चार्ली डीन को ‘मांकड़’ रनआउट किया था, जिसपर बवाल हो गया।

अब बेशक ये माना जा रहा हो कि ये फैसला आईसीसी के नियमों के तहत हुआ हो, लेकिन अब इसे लेकर लोगों की रोषयुक्त प्रतिक्रिया सामने आ रही है। जिसे लेकर दिग्गिज कमेंटेटर हर्ष भोगले ने आठ ट्वीट कर अपनी सार्वजनिक ही है। आइए, अब आगे आपको बताते हैं कि आखिर उन्होंने क्या कुछ कहा है। बता दें कि अभी उनका यह ट्वीट खासा सुर्खियों में है। जिस पर लोग अलग-अलग तरह से अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए नजर आ रहे हैं।

मुझे यह बहुत परेशान करने वाला लगता है कि इंग्लैंड में मीडिया का एक बहुत बड़ा वर्ग एक ऐसी लड़की से सवाल पूछ रहा है जो खेल के नियमों से खेलती है और कोई भी नहीं जो एक अवैध लाभ प्राप्त कर रही थी और एक आदतन अपराधी थी।

गलत को बाकी क्रिकेट जगत द्वारा गलत माना जाना चाहिए, बहुत कुछ “लाइन” की तरह ऑस्ट्रेलियाई कहते हैं कि आपको यह तय करने के बाद पार नहीं करना चाहिए कि वह कौन सी रेखा होनी चाहिए जो उनकी संस्कृति में ठीक हो लेकिन दूसरों के लिए नहीं हो सकती है। बाकी दुनिया अब बाध्य नहीं है

और हम भी इसके दोषी हैं, जब लोग एक-दूसरे के दृष्टिकोण के बारे में निर्णय लेते हैं। इंग्लैंड चाहता है कि बाकी दुनिया नॉन-स्ट्राइकर के छोर पर बल्लेबाजों को रन आउट करना पसंद न करे और दीप्ति और अन्य लोगों के प्रति अपमानजनक और अपमानजनक रहे हैं जिन्होंने ऐसा किया है। हम भी मुश्किल से आते हैं

जब तक गेंदबाज का हाथ अपने उच्चतम बिंदु पर न हो। यदि आप इसका पालन करते हैं, तो खेल सुचारू रूप से आगे बढ़ेगा। यदि आप दूसरों पर उंगली उठाते हैं, जैसा कि इंग्लैंड में कई लोगों ने दीप्ति में किया है, तो आप अपने द्वारा पूछे जाने वाले प्रश्नों के लिए खुले रहते हैं। जो सत्ता में थे, या जो सत्ता में थे, यह सबसे अच्छा है। बता दें कि अभी उनका यह ट्वीट खासा सुर्खियों मे है। जिस पर लोग अलग-अलग तरह से अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए नजर आ रहे हैं, लेकिन बतौर पाठक आपका इस पूरे प्रकरण पर क्या कुछ कहना है। आप हमें कमेंट कर बताना बिल्कुल भी मत भूलिएगा। तब तक के लिए आप देश दुनिया की तमाम बड़ी खबरों से रूबरू होने के लिए पढ़ते रहिए। न्यूज रूम पोस्ट.कॉम

Advertisement
Advertisement
Advertisement