ओलंपिक के स्थगित होने के बाद नई प्लानिंग के साथ काम करेगा हॉकी इंडिया

टोक्यो ओलंपिक-2020 के एक साल तक के लिए स्थगित होने के बाद हॉकी इंडिया ने इस बात की पुष्टि की है कि वह महिला और पुरुष दोनों टीमों के साथ मिलकर काम करेगा ताकि दोनों ही टीमें बिना किसी परेशानी के अगले साल होने वाले टोक्यो ओलंपिक के लिए अपनी तैयारी जारी रख सके।

Written by: March 25, 2020 12:10 pm

नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक-2020 के एक साल तक के लिए स्थगित होने के बाद हॉकी इंडिया ने इस बात की पुष्टि की है कि वह महिला और पुरुष दोनों टीमों के साथ मिलकर काम करेगा ताकि दोनों ही टीमें बिना किसी परेशानी के अगले साल होने वाले टोक्यो ओलंपिक के लिए अपनी तैयारी जारी रख सके।

 

टोक्यो ओलंपिक-2020 को एक साल तक के लिए टाल दिया गया है। जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे मंगलवार को अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के साथ खेलों के महाकुंभ को 2021 तक के लिए टालने को तैयार हो गए हैं।

Switzerland IOC

हॉकी इंडिया के अध्यक्ष मुश्ताक अहमद ने कहा, ” हमने टोक्यो ओलंपिक के स्थगित होने के बारे में मुख्य कोचों को बता दिया है। निश्चित रूप से इससे हम निराश हैं, लेकिन कोरोनावायरस ने पूरे विश्व पर अपना प्रभाव डाला है। ओलंपिक खेलों को लेकर हमारा लक्ष्य बदला नहीं है और हम भारतीय ओलंपिक संघ, खेल मंत्रालय और भारतीय खेल प्राधिकरण के साथ मिलकर काम करना जारी रखेंगे।”

Indian Hockey Team
भारत की पुरुष और महिला हॉकी टीमें इस समय बेंगलुरू के साई सेंटर में अभ्यास कर रही है। पुरुष टीम के मुख्य कोच ग्राहम रीड ने कहा, ” यह बेहद निराशाजनक है कि 2020 में ओलंपिक नहीं होगा। लेकिन दुनिया की मौजूदा हालात को देखते हुए यह पूरी तरह से समझने के योग्य है। उन सभी एथलीटों के लिए मुझे अच्छा नहीं लग रहा है, जो पिछले चार साल से इसमें लगे हुए थे। हालांकि रद्द होने से अच्छा स्थगित होना है और इस मुश्किल समय में खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए यह काफी है।”

women hockey team

महिला टीम के कोच शुअर्ड मरेन ने कहा, ” मैंने अभी टीम के साथ एक बैठक की है और इस खबर के बारे में टीम को बताया है। यह निराशाजनक है और खिलाड़ियों ने मुझसे कहा, ‘ठीक है कोच। हम अपना काम करना जारी रखेंगे और इससे हमें ओलंपिक की तैयारी करने के लिए और ज्यादा समय मिलेगा।’ इस घोषणा से खिलाड़ियों की प्रेरणा अडिग है और हम बेहतर परिणाम हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत करेंगे। मुझे विश्वास है कि एक बार जब कोविड-19 को लेकर स्थिति सुधरेगी तो हम हॉकी इंडिया के साथ बैठक करेंगे और फिर अगले साल होने वाले ओलंपिक खेलों की तैयारियों को लेकर नए कलैंडर पर काम करेंगे।”