Olympic Game: ब्रिस्बेन में आयोजित होगा साल 2032 का ओलंपिक गेम, IOC ने की घोषणा

Olympic Game:ब्रिस्बेन में होने वाले ऑलंपिक को लेकर घोषणा करते हुए आईओसी के अध्यक्ष थॉमस बाख ने बयान दिया था जिसमें कहा गया था कि “दुनिया भर में कई सरकारों द्वारा खेल को अपने देशों और क्षेत्रों के दीर्घकालिक विकास के लिए आवश्यक माना जाता है।

काजल शर्मा Written by: July 21, 2021 4:42 pm
oly

नई दिल्ली। साल 2032 होने वाले ओलंपिक गेम के लिए ब्रिस्बेन को चुना गया है। अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति ने इसे लेकर फैसला किया है। हालांकि इस बात को लेकर अटकलें पहले से ही लगाई जा रही थी। लेकिन अब इसकी आधिकारिक घोषणा भी कर दी गई है। आईओसी ने इसे लेकर पहले वोटिंग की, जिसके बाद बुधवार को ब्रिसबेन को आधिकारिक तौर पर मेजबान घोषित कर दिया गया। कहा जा रहा है कि ओलिंपिक इवेंट्स का आयोजन पूरे क्वीन्सलैंड राज्य में किया जाएगा। जिसमें गोल्ड कोस्ट शहर भी शामिल है जिसने 2018 राष्ट्रमंडल खेलों की मेजबानी की थी।

international-olympic-day

टोक्यो में 138वें सत्र में यह फैसला लिया गया है। जिसके बाद ट्वीट करते हुए आईओसी मीडिया ने लिखा: “ब्रिस्बेन 2032 XXXV ओलंपियाड के खेलों के मेजबान के रूप में चुना गया! बहुत- बहुत बधाई!”

आईओसी के कार्यकारी बोर्ड (ईबी) ने जून में 2032 ओलंपिक की मेजबानी के लिए ब्रिस्बेन को प्रस्तावित करने का फैसला किया था। इस पर एक अधिकारिक बयान देते हुए आईओसी ने कहा कि “यह निर्णय ओलंपियाड के खेलों के लिए फ्यूचर होस्ट कमीशन की सिफारिश के बाद लिया गया। आईओसी के सदस्य 21 जुलाई 2021 को टोक्यो में 138वें सत्र में मतदान करेंगे’’।

बताया गया है कि कार्यकारी बोर्ड का यह निर्णय फ्यूचर होस्ट कमीशन की एक रिपोर्ट पर आधारित था, जिसने हाल के महीनों में ब्रिस्बेन 2032 परियोजना का विस्तृत विश्लेषण किया है।

olypic

आईओसी के अध्यक्ष का बयान

ब्रिस्बेन में होने वाले ऑलंपिक को लेकर घोषणा करते हुए आईओसी के अध्यक्ष थॉमस बाख ने बयान दिया था जिसमें कहा गया था कि “दुनिया भर में कई सरकारों द्वारा खेल को अपने देशों और क्षेत्रों के दीर्घकालिक विकास के लिए आवश्यक माना जाता है। ब्रिस्बेन 2032 ओलंपिक परियोजना दिखाती है कि कैसे आगे की सोच रखने वाले नेता खेल की शक्ति को अपने समुदायों के लिए स्थायी विरासत प्राप्त करने के तरीके के रूप में पहचानते हैं।”


ब्रिसबेन में मनाया गया जश्न

वहीं आईओसी की ओर से की गई इस घोषणा के बाद से ब्रिसबेन में खुशी की माहौल देखा जा रहा है। ऑस्ट्रेलिया में कई जगहों पर आतिशबाजी शुरू हो गई, खासतौर पर ब्रिसबेन में। बता दें कि साल 2032 में ऑस्ट्रेलिया दूसरी बार पैरालिंपिक खेलों का आयोजन किया जाएगा।

Support Newsroompost
Support Newsroompost