Connect with us

खेल

Sunil Chhetri: सुनील छेत्री का 37वां जन्मदिन आज, कभी था सचिन तेंदुलकर जैसा बनने का सपना, आज हैं महान फुटबॉलर

Sunil Chhetri: आज भले ही छेत्री भारतीय फुटबॉल के कोहिनूर हैं लेकिन एक समय ऐसा भी था जब उन्हें टीम के कोच ने नाकाम खिलाड़ी तक बोल दिया था। आइए आपको बताते हैं फुटबॉल टीम के कप्तान के बारे में कुछ बातें-

Published

नई दिल्ली। भारतीय फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील छेत्री का आज यानी 3 अगस्त को 37वां जन्मदिन है। तेलंगाना में जन्मे सुनील छेत्री ने अपने करियर में कई बड़े मुकाम हासिल किये हैं। छेत्री भारत के लिए सबसे ज्यादा गोल करने वाले खिलाड़ी हैं। 2007 में पाकिस्तान के खिलाफ अपने इंटरनेशनल करियर का आगाज करने वाले सुनील छेत्री के अपने करियर में कई उतार-चढ़ाव भी आए लेकिन सुनील ने हार नहीं मानी और कड़ी मेहनत में लगे रहे। आज भले ही छेत्री भारतीय फुटबॉल के कोहिनूर हैं लेकिन एक समय ऐसा भी था जब उन्हें टीम के कोच ने नाकाम खिलाड़ी तक बोल दिया था। आइए आपको बताते हैं फुटबॉल टीम के कप्तान के बारे में कुछ बातें-

सुनील छेत्री करियर

सुनील छेत्री अपने इंटरनेशनल करियर में 118 मैचों में 74 गोल दाग चुके हैं। उनका प्रति मैच गोल औसत 0.63 है जो कि रोनाल्डो और मेसी की तुलना में ज्यादा अच्छा था। रोनाल्डो का प्रति मैच गोल औसत 0.61 है, जबकि मेसी अर्जेंटीना के लिए प्रति मैच 0.5 गोल करते हैं। वैसे मौजूदा खिलाड़ियों में सबसे अधिक इंटरनेशनल गोल के मामले में रोनाल्डो 109 गोल के साथ पहले नंबर पर बने हुए हैं। यूएई के अली मबखाउत और लियोनेल मेसी 76 गोलों के साथ दूसरे और सुनील छेत्री तीसरे नंबर पर बने हैं।

सुनील की फैमिली

भारतीय फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील छेत्री के पिता आर्मी में थे इसलिए वो देश के कई हिस्सों में रहे। सुनील की गंगटोक में स्कूली पढ़ाई हुई। इसके बाद उन्होंने दिल्ली के आर्मी पब्लिक स्कूल से पढ़ाई की। वो कोलकाता में भी पढ़े और 12वीं क्लास के बाद उन्होंने पढ़ाई छोड़ दी क्योंकि इसके बाद उनका फुटबॉल करियर काफी चमक चुका था।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement