Connect with us

खेल

Denesh Ramdin Retirement: वेस्टइंडीज के दिनेश रामदीन ने लिया अंतराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास, दो बार वर्ड कप जीताने में निभाई अहम भूमिका

Denesh Ramdin Retirement: दिनेश रामदीन ने अपने क्रिकेट करियर में 74 टेस्ट मैच, 139 वनडे और 71 टी-20 इंटरनेशनल मुकाबले खेले हैं। इसके अलावा दिनेश रामदीन ने साल 2005 में श्रीलंका के खिलाफ कोलंबो में अपना पहला टेस्ट डेब्यू किया था।

Published

on

denesh ramdin

नई दिल्ली। वेस्टइंडीज क्रिकेट (West Indies) के हवाले से एक अहम खबर सामने आ रही है। दरअसल, वहां के स्टार विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश रामदीन (Denesh Ramdin) ने इंटरनेशनल क्रिकेट (International Cricket) से संन्यास ले लिया है। वर्तमान में इस खिलाड़ी की उम्र 37 साल की है। दिनेश रामदीन (Denesh Ramdin) ने अपनी टीम वेस्टइंडीज के लिए दो वर्ड कप जीताने में अहम भूमिका निभाई। उन्होंने अपना आखिरी वर्ल्ड कप साल 2019 में खेला था। जानकारी के लिए बता दें कि दिनेश रामदीन भारतीय मूल कैरेबियाई क्रिकेटर हैं। वो वेस्टइंडीज के सबसे सफलतम विकेटकीपर बल्लेबाजों में से एक हैं।

dinesh ramdin

14 साल का करियर सपने जैसा रहा- दिनेश रामदीन 

दिनेश रामदीन ने अपने क्रिकेट करियर में 74 टेस्ट मैच, 139 वनडे और 71 टी-20 इंटरनेशनल मुकाबले खेले हैं। इसके अलावा दिनेश रामदीन ने साल 2005 में श्रीलंका के खिलाफ कोलंबो में अपना पहला टेस्ट डेब्यू किया था। रामदिन ने अपने संन्यास की घोषणा करते हुए लिखा कि ‘ये बेहद खुशी की बात है कि मैं अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर रहा हूं। मेरे लिए पिछले 14 साल एक सपने के सच होने जैसा रहा है। मैंने त्रिनिदाद और टोबेगो और वेस्टइंडीज के लिए क्रिकेट खेलकर अपने बचपन के सपनो को पूरा किया। इस दौरान मेरे केरियर ने मुझे दुनिया को देखने, विभिन्न संस्कृतियों से दोस्त बनाने का मौका दिया।’

 

View this post on Instagram

 

A post shared by 124NotOut Sports Agency (@124notout)


फ्रेंचाइजी क्रिकेट खेलता रहूंगा- दिनेश रामदीन 

इसके बाद दिनेश रामदीन ने लिखा- ‘हांलाकि मैंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है, लेकिन मैं फ्रेंचाइजी क्रिकेट खेलता रहूंगा। इसलिए मेरी एजेंसी से संपर्क करने के संकोच में न रहें। मैं उन सभी लोगों को धन्यवाद देना चाहता हूं जिन्होंने मेरे 14 साल के करियर में मेरा साथ दिया। विशेष रुप से मेरे परिवार, मेरी पत्नी जेनेल और हमारे बच्चों के उन बलिदानों के जिन्होंने मेरे अंतरराष्ट्रीय करियर को लंबे समय तक बनाए रखने के लिए मेरा सहयोग किया’

Advertisement
Advertisement
Advertisement