Connect with us

टेक

Tech News : Google ने भेजा कर्मचारियों को मेल, तो मच गया हड़कंप, जानिए क्या है वजह?

Tech News : मौजूदा समय में गूगल के L6 लेवल में वे एंप्लॉयीज शामिल हैं, जिन्हें लगभग 10 साल का एक्सपीरियंस है। गूगल ने हाल में नए परफॉर्मेंस रिव्यू सिस्टम Google Reviews and Development (GRAD) की शुरुआत की है। प्रोमोशन की संख्या इसी का नतीजा है।

Published

नई दिल्ली। गूगल में काम करने वाले कर्मचारियों को एक बड़ा झटका लगा है। कुछ समय पहले ही गूगल मैप cost-cutting के चलते छंटनी की गई थी और एक बार फिर से कंपनी ने कॉस्ट कटिंग के नाम पर बीते दिनों काफी सारे एंप्लॉयीज को नौकरी से निकाल दिया है। इसी बीच गूगल के एक नए ईमेल से कर्मचारियों में हड़कंप मचा हुआ है। सीएनबीसी की एक रिपोर्ट के अनुसार गूगल ने एंप्लॉयीज को भेजे गए ईमेल में कहा कि इस बार सीनियर लेवल पर कुछ गिने-चुने एंप्लॉयीज को ही प्रोमोशन मिलेगा। गूगल ने अपने एंप्लॉयीज के कहा, ‘इस बार प्रोमोशन का प्रोसेस पिछली बार की तरह मैनेजर पर ही निर्भर करेगा। नए लोगों को नौकरी पर रखने की धीमी रफ्तार के कारण हम प्लान कर रहे हैं कि इस बार L6 और इससे ऊपर कुछ ही लोगों की तरक्की की जाए।”

googleआपको बता दें कि मौजूदा समय में गूगल के L6 लेवल में वे एंप्लॉयीज शामिल हैं, जिन्हें लगभग 10 साल का एक्सपीरियंस है। गूगल ने हाल में नए परफॉर्मेंस रिव्यू सिस्टम Google Reviews and Development (GRAD) की शुरुआत की है। प्रोमोशन की संख्या इसी का नतीजा है। यह सिस्टम गूगल के ज्यादा एंप्लॉयीज को कम अंक और कुछ ही को परफॉर्मेंस रेटिंग में ज्यादा नंबर देता है।

गौरतलब है कि ये कोई पहली बार नहीं है जब cost-cutting के चलते गूगल ने लेऑफ़ किया हो बल्कि गूगल ने सितंबर 2022 में अपनी इंटरनल लेऑफ शुरू किया था। गूगल ने आधिकारिक तौर पर जनवरी 2023 में छंटनी की घोषणा करते हुए कहा था कि वह अलग-अलग डिपार्टमेंट्स में 12,000 नौकरियों की कटौती करेगा। हाल ही में कंपनी ने अपने इंडिया ऑरपरेशन्स से भी 450 से अधिक कर्मचारियों को कंपनी से बाहर का रास्ता दिखाया है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement