Connect with us

टेक

Chandigarh MMS Scandal: अगर आपके साथ चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी MMS जैसी घटना होती है, तो ऐसे में कहां, कैसे करें शिकायत

Chandigarh MMS Scandal: इस कांड के बाद आपके भी मन में ख्याल उठ रहे होगा कि यदि आपके साथ ऐसा हो जाए तो ऐसी स्थिति में क्या करना चाहिए? इस प्रकार के मामलों में कहां और कैसे शिकायत की जाती है। इन सब जानकारियों के बारे में आज हम आपको तफसील से बताने जा रहे हैं। 

Published

on

नई दिल्ली। मोहाली एमएमएस कांड ने पूरे देश में लड़कियों के निजता के उपर हमला होने पर पूरे देश में एक नयी बहस छेड़ दी। इस कांड के बाद चंडीगढ़ से शिमला और फिर पूरे देश में हंगामा मच गया। मामला एक लड़की पर आरोप का था कि उसने हॉस्टल में रहने वाली लड़की का आपत्तीजनक वीडियो बनाकर अपने ब्वॉयफ्रैंड को भेजा। उस लड़की को आधी रात गये हॉस्टल की अन्य लड़कियों ने वीडियो बनाते हुए रंगे हाथ पकड़ा। इस मामले के लिए वीडियों बनाने वाली लड़की के साथ दो अन्य लोगों की गिरफ्तारी भी हुई। इसके बाद मामले ने इतना तूल पकड़ लिया कि बाद में अन्य छात्रों ने दो दिन तक इस घिनोनी हरकत के लिए विरोध प्रदर्शन किया। फिलहाल अब ये मामला शांत होते हुए दिख रहा है। इस कांड के बाद आपके भी मन में ख्याल उठ रहे होगा कि यदि आपके साथ ऐसा हो जाए तो ऐसी स्थिति में क्या करना चाहिए? इस प्रकार के मामलों में कहां और कैसे शिकायत की जाती है। इन सब जानकारियों के बारे में आज हम आपको तफसील से बताने जा रहे हैं।

ऐसी स्थिति में खुद को कैसे बचाएं

अगर कोई आपके चुपके से वीडियों बनाकर उसका दुरुप्रयोग कर रहा है, तो ऐस में आपको पहले ही सतर्क हो जाना चाहिए। ऐसी घटना आपके साथ साथ ना हो इसके कुछ बातों का ध्यान रखना पड़ेगा। जैसे- ऑनलाइन डेटिंग ऐप और सैक्स करने वाली साइड से दूरी बना लें, अपने निजी फोटो खींचने, वीडियो बनाने का अधिकार किसी को न दें, चाहे वह कितना ही नजदिकी क्यो न हो। कभी भी कोई आपको इस प्रकार के मामलों के लिए ब्लैकमेल करे तो इसकी जानकारी तुरंत ही अपने परिवार को फ्रेंड्स को तुरंत बताएं। पब्लिक प्लेस जैसे कि होटल, टॉयलेट और लॉज जैसी जगहों पर स्पाई कैमरा लगे हो सकते हैं, इन जगहों को अच्छे से चैक करें। इसके बाद सबसे  जरूरी बात ये है कि यदि ऐसी घटना आपके साथ भविष्य में होती है तो इसकी तुरंत ही एफआईआऱ कराए। डरे नहीं, आपकी पहचान उजागर नहीं होगी और पुलिस भी ऐसे मामले में आपका सहयोग करेगी।

शिकायत करने का विकल्प

किसी की निजता को हानी पहुंचाना साइबर क्राइम के अंतर्गत आता है। सरकारों ने ऐसे मामलों से निपटने के लिए साइबर सेल बनाया है। आप इन मामलों की शिकायत साइबर सेल मे कर सकते हैं। लोकल पुलिस थानों में भी आप केस दर्ज कर सकते हैं। इसके अलावा इसकी आनलाइन शिकायत भी की जा सकती है।

शिकायत से पहले ये जरूर कर लें

आपके पास उस घटना से संबंधित जो भी प्रूफ हो, उसे संभाल कर रख लें। उस इंसान का नंबर, सोशल मीडिया की बारे में आपको जरूर पता होना चाहिए। इसका स्क्रीन शॉर्ट कर अपने पास रख लें। वीडियों या ऑडियो कंटेट भी सेव कर लें। यदि उस आरोपी की आपके पास मैसेज, व्हटसप चैट हो तो ये सबसे बड़े सबूत के तौर पर काम करेगा।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement