Cyber Security: साइबर सिक्योरिटी के मामले में भारत ने बनाई पहचान, चीन को छोड़ा पीछे, 47वीं पोजिशन से सीधे टॉप 10 में पहुंचा

Cyber ​​Security India: दरअसल पिछले कुछ सालों से भारत में इंटरनेट उपभोक्ताओं की संख्या बढ़ने के साथ साइबर सुरक्षा पर भी अधिक ध्यान दिया गया है। ऐसे में उसकी रैंकिंग में भी सुधार हुआ है।

Cyber Scurity India pic

नई दिल्ली। भारत साइबर सिक्योरिटी के मामले में अब पूरी दुनिया में टॉप-10 में शामिल हो चुका है। ऐसा करने के साथ भारत ने अपने प्रतिद्वंदी देश चीन को भी पीछे कर दिया है। बता दें कि दुनियाभर में साइबर सिक्योरिटी के क्षेत्र में सबसे सुरक्षित देशों में भारत का अब 10वां स्थान है। हालांकि पहले भारत इस मामले में काफी पीछे था और उसकी जगह 47वें नंबर थी। मालूम हो कि इंटरनेशनल टेलिकम्युनिकेशन यूनियन (ITC) की तरफ से जारी होने वाली ग्लोबल साइबर सिक्योरिटी इंडेक्स (GCI) 2020 के मुताबिक साइबर सिक्योरिटी के मामले में भारत ने 100 में से 97.5 अंक प्राप्त किए हैं। वहीं भारत पूरी दुनिया में 10वें स्थान पर जा पहुंचा है। जबकि 92.53 अंकों के साथ चीन 33वें तथा 64.88 अंकों के साथ पाकिस्तान 79वें स्थान पर है। संयुक्त राष्ट्र में परमानेंट भारतीय मिशन के ट्विटर एकाउंट की तरफ से यह जानकारी दी गई है।

वहीं इस मामले में सबसे ऊपर अमेरिका काबिज है। अमेरिका को इंटरनेशनल टेलिकम्युनिकेशन यूनियन के ग्लोबल साइबर सिक्योरिटी इंडेक्स में 100 में से 100 अंक दिए गए हैं। वहीं अमेरिका के बाद 99.54 अंकों के साथ यूके है। इसके साथ ही सऊदी अरब भी दूसरे स्थान पर हैं। वहीं इस्टोनिया तीसरे स्थान पर 99.48 अंकों के साथ है। बता दें कि पूरे एशिया प्रशांत क्षेत्र में भारत चौथे स्थान पर है। एशिया प्रशांत क्षेत्र में भारत से आगे दक्षिण कोरिया, सिंगापुर, मलेशिया और जापान हैं।

Cyber Scurity India

वहीं एशिया में भारत का पड़ोसी देश चीन का स्थान 8वां है। इसके बाद बांग्लादेश 11वें, पाकिस्तान 14वें , श्रीलंका 15वें और नेपाल 17वें स्थान पर है। दरअसल पिछले कुछ सालों से भारत में इंटरनेट उपभोक्ताओं की संख्या बढ़ने के साथ साइबर सुरक्षा पर भी अधिक ध्यान दिया गया है। ऐसे में उसकी रैंकिंग में भी सुधार हुआ है। यही वजह है कि इस बार ITU की चौथी GCI रिपोर्ट में भारत 10वें स्थान पर पहुंचा है।

Support Newsroompost
Support Newsroompost