Connect with us

टेक

फिर ट्विटर की बढ़ी परेशानी, रविशंकर प्रसाद के अकाउंट ब्लॉक करने के मामले में दो दिन में मांगा जवाब

Twitter: सूत्रों के हवाले से अब खबर आई है कि संसदीय समिति ने ट्विटर से मंत्री रविशंकर प्रसाद और सांसद शशि थरूर (Shashi Tharoor) का अकाउंट ब्लॉक करने को लेकर दो दिन के अंदर जवाब मांगा है।

Published

on

नई दिल्ली। माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर (Twitter) शुक्रवार 25 जून को मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री रविशंकर प्रसाद का ट्विटर अकाउंट एक घंटे के लिए ब्लॉक करके बुरे तरीके से फंस गया है। बता दें कि देश के कानून और आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद (Ravishankar Prasad) का अकाउंट 25 जून को अचानक एक घंटे के लिए ट्विटर ने ब्लॉक कर दिया था। वहीं इस ब्लॉक को लेकर ट्विटर ने अमेरिका के कानूनों का हवाला दिया था। फिलहाल अब ट्विटर बुरी तरह फंसता नजर आ रहा है। बता दें कि सूत्रों के हवाले से अब खबर आई है कि संसदीय समिति ने ट्विटर से मंत्री रविशंकर प्रसाद और सांसद शशि थरूर (Shashi Tharoor) का अकाउंट ब्लॉक करने को लेकर दो दिन के अंदर जवाब मांगा है। बता दें कि रविशंकर प्रसाद के अकाउंट के अलावा कांग्रेस नेता शशि थरूर का भी अकाउंट बंद कर दिया गया था। शुक्रवार को हुई इस घटना को लेकर अब संसद की स्थायी समिति इस माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट से इसको लेकर स्पष्टीकरण मांगेगी।

twitter

बता दें कि रविशंकर प्रसाद के ट्विटर अकाउंट को ब्लॉक करने को लेकर मिली नोटिस में लिखा था कि, “आपके अकाउंट को लॉक किया गया है क्योंकि ट्विटर को आपके अकाउंट से पोस्ट किए गए कंटेंट पर डिजिटिल मिलेनियम कॉपीराइट एक्ट की शिकायत मिली है। डीएमसीए के तहत कॉपीराइट का दावा करने वाला ट्विटर को नोटिफाई कर सकता है कि यूजर ने उनके कॉपीराइट कामों का उल्लंघन किया है। इस नोटिस के मिलने पर, ट्विटर संबंधित कंटेंट को हटाएगा।”

twitter Ravi Shankar Prasad

इसके अलावा केंद्रीय मंत्री को मिले नोटिस में यह भी लिखा है कि कॉपीराइट का बार-बार उल्लंघन करने पर अकाउंट को सस्पेंड भी किया जा सकता है। वहीं अब संसदीय समिति ने ट्विटर से इस संबंध में दो दिन के अंदर जवाब मांगा है।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement