Tech News : मेटा, ट्विटर के बाद अब Disney कर सकती है कर्मचारियों की छंटनी का बड़ा ऐलान, आईटी सेक्टर में मंदी की आहट ?

Tech News : चापेक ने मेमो में साफ शब्दों में लिखा गया है, “कुछ व्यापक आर्थिक फैक्टर्स हमारे नियंत्रण से बाहर हैं। लक्ष्यों को पूरा करने के लिए हम सभी को उन चीजों को प्रबंधित करने के लिए अपना काम जारी रखना होगा जिन्हें हम नियंत्रित कर सकते हैं – विशेष रूप से, हमारी लागत।”

Avatar Written by: November 12, 2022 7:39 pm

नई दिल्ली। इन दिनों सोशल मीडिया कंपनियों के दिन अच्छे नहीं चल रहे हैं ऐसा लग रहा है जैसे सोशल मीडिया कंपनियों पर मंदी की भयंकर मार पड़ी है कुछ ना पहले एलन मस्क द्वारा ट्विटर को खरीदे जाने के बाद बड़े पैमाने पर कर्मचारियों की छटनी की गई थी उसके बाद मेटा ने भी अपने कई कर्मचारियों को कंपनी से बाहर का रास्ता दिखाया था। इस बार फिर एक बड़ी कंपनी वॉल्ट डिज्नी अपने अपने कई कर्मचारियों को बड़े पैमाने पर बाहर का रास्ता दिखाने पर विचार कर रही है। कंपनी नई हायरिंग को फ्रीज करने और कई कर्मचारियों को नौकरी से निकालने की योजना बना रही है। इसके पीछे स्ट्रीमिंग सर्विस डिज्नी प्लस को प्रॉफिट में न होना वजह है। मालूम हो कि वेस्टर्न कंट्रीज में आर्थिक अनिश्चितता का दौर चल रहा है, जिससे मंदी की भी आहट होने लगी है। डिज्नी के चीफ एग्जीक्यूटिव बॉब चापेक ने कंपनी के टॉप लीडरशिप को एक मेमो भेजा और कहा कि वह टारगेटेड हायरिंग को फ्रीज कर रही है। साथ ही कुछ स्टाफ में कटौती किए जाने की भी आशंका है, जिससे लागत को मैनेज किया जा सके।

आपको बता दें कि चापेक ने मेमो में साफ शब्दों में लिखा गया है, “कुछ व्यापक आर्थिक फैक्टर्स हमारे नियंत्रण से बाहर हैं। लक्ष्यों को पूरा करने के लिए हम सभी को उन चीजों को प्रबंधित करने के लिए अपना काम जारी रखना होगा जिन्हें हम नियंत्रित कर सकते हैं – विशेष रूप से, हमारी लागत।” चापेक ने कहा कि डिज्नी ने मुख्य वित्तीय अधिकारी क्रिस्टीन मैकार्थी और जनरल काउंसल होरासियो गुटिरेज़ सहित एक टास्क फोर्स की स्थापना की है, ताकि उन्हें महत्वपूर्ण बड़े निर्णय लेने में मदद मिल सके।

हालांकि गौर करने वाली बात यह भी है कि कंपनी ने पहले से ही सामग्री और मार्केटिंग खर्च को देखना शुरू कर दिया है। हालांकि, उन्होंने कहा है कि कटौती के चलते गुणवत्ता से त्याग नहीं होगा। चापेक ने कहा कि व्यापार यात्रा सीमित होगी और यात्राओं के लिए अग्रिम स्वीकृति की आवश्यकता होगी। डिज्नी ने तिमाही आय के लिए वॉल स्ट्रीट के अनुमानों के बाद यह कदम उठाया है। मनोरंजन जगत की दिग्गज कंपनी को अपने स्ट्रीमिंग वीडियो से काफी नुकसान उठाना पड़ा है। कंपनी इसे डायरेक्ट टू कस्टमर भी कहती है। डिज्नी प्लस हॉटस्टार सब्सक्रिप्शन के आधार पर काम करती है।

Latest