Connect with us

दुनिया

Hindus Targetted: अब ब्रिटेन के बर्मिंघम में कट्टरपंथियों का मंदिर पर धावा, अल्लाहू अकबर के नारे लगाकर हिंदुओं और PM मोदी को दी भद्दी गालियां

ब्रिटेन में कट्टरपंथी तत्व लगातार हिंदुओं के खिलाफ उग्र होते जा रहे हैं। पहले लिस्टर और फिर स्मेथविक के बाद कट्टरपंथियों की भीड़ ने इस बार बर्मिंघम में हिंदू मंदिर को निशाना बनाया। मंदिर के बाहर कट्टरपंथियों की भीड़ जुटी और उसने अल्लाहू अकबर के नारे लगाने के साथ ही हिंदुओं और पीएम नरेंद्र मोदी को भद्दी गालियां दीं।

Published

on

birmingham muslims 1

बर्मिंघम। ब्रिटेन में कट्टरपंथी तत्व लगातार हिंदुओं के खिलाफ उग्र होते जा रहे हैं। पहले लिस्टर और फिर स्मेथविक के बाद कट्टरपंथियों की भीड़ ने इस बार बर्मिंघम में हिंदू मंदिर को निशाना बनाया। मंदिर के बाहर कट्टरपंथियों की भीड़ जुटी और उसने अल्लाहू अकबर के नारे लगाने के साथ ही हिंदुओं और पीएम नरेंद्र मोदी को भद्दी गालियां दीं। इस पूरे घटना का वीडियो वायरल हो रहा है, लेकिन उसमें इतनी भद्दी गालियां हैं कि हम आपको वो वीडियो दिखा नहीं सकते। कट्टरपंथी जब गालीगलौज कर रहे थे, तो मौके पर पुलिस पहुंची। वीडियो में दिख रहा है कि पुलिसवाले काफी तादाद में थे, लेकिन वे सड़क के किनारे खड़े रहे। ये तमाशा काफी देर तक चलता रहा। पहचान से बचने के लिए कट्टरपंथी अपने चेहरों को मास्क से ढंके हुए थे।

birmingham muslims 2

बर्मिंघम में कट्टरपंथियों के हंगामे के दौरान मंदिर परिसर में हिंदू

हिंदुओं के खिलाफ कट्टरपंथियों का उग्र रुख एशिया कप में भारत और पाकिस्तान के बीच हुए मैच के बाद देखा जा रहा है। पहले उन्होंने ब्रिटेन के लिस्टर इलाके में एक दुर्गा मंदिर में तोड़फोड़ की थी। यहां लगा झंडा उखाड़कर फेंक दिया था। इसके कुछ दिन बाद ही स्मेथविक में भी एक हिंदू मंदिर में कट्टरपंथियों की भीड़ ने हिंदू मंदिर पर धावा बोला था और वहां भी लिस्टर जैसे ही नजारे देखने को मिले थे। भारतीय उच्चायोग ने लिस्टर और स्मेथविक में हुई घटनाओं के खिलाफ ब्रिटिश सरकार से आपत्ति जताई थी। उच्चायोग ने कट्टरपंथी तत्वों पर कार्रवाई की मांग की थी।

birmingham muslims 3

बर्मिंघम में कट्टरपंथियों के हंगामे के दौरान सड़क किनारे खड़े पुलिसकर्मी

आजकल नवरात्रि है। इस मौके पर ब्रिटेन का हिंदू समुदाय मंदिरों में पूजा-पाठ करने जा रहा है। ऐसे मौके पर कट्टरपंथी लगातार हिंदू मंदिरों को निशाना बना रहे हैं। हालांकि, लिस्टर और स्मेथविक पुलिस ने भरोसा दिलाया है कि किसी भी तत्व को हिंदुओं के त्योहार में दखल देने या किसी समुदाय के खिलाफ हेट स्पीच की मंजूरी नहीं दी जाएगी। जिसके बाद अब बर्मिंघम की घटना हुई है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement