Connect with us

दुनिया

Sadhvi Ritambhara: मुस्लिम कट्टरपंथियों की धमकी के आगे झुकी ब्रिटिश सरकार, साध्वी ऋतंभरा के कार्यक्रम पर लगाया बैन

एशिया कप में भारत और पाकिस्तान के बीच मैच के बाद से हिंदुओं को ब्रिटेन में निशाना बनाने की घटनाओं में इजाफा हुआ है। लिस्टर में सड़कों पर गाड़ियां रोककर हिंदुओं पर हमले से इसकी शुरुआत हुई थी। फिर यहीं एक हिंदू मंदिर पर उग्र मुस्लिमों की भीड़ ने धावा बोला था और जमकर तोड़फोड़ की थी। फिर स्मेथविक में भी हिंदू मंदिर के बाहर जमकर उपद्रव किया गया था।

Published

on

sadhvi ritambhara

लंदन। मुस्लिमों के जबरदस्त विरोध के कारण ब्रिटिश सरकार ने लंदन में साध्वी ऋतंभरा के कार्यक्रमों पर रोक लगा दी है। साध्वी ऋतंभरा के कार्यक्रम को प्रेम शक्ति पीठ कराने जा रहा था। लंदन में 20 से 24 सितंबर तक साध्वी के कार्यक्रम होने थे। ऋतंभरा इसके लिए लंदन पहुंच भी गई थीं, लेकिन उन्हें वहां से भारत लौटना पड़ा। साध्वी ऋतंभरा के कार्यक्रम का विरोध स्थानीय सांसद ने भी किया था। सांसद समेत तमाम मुस्लिमों ने धमकी दी थी कि अगर साध्वी का कार्यक्रम हुआ, तो वे उस जगह बड़ी तादाद में पहुंचकर विरोध प्रदर्शन करेंगे। बता दें कि हाल के दिनों में ब्रिटेन में कई जगह मुस्लिम कट्टरपंथियों ने हिंदू मंदिरों को निशाना भी बनाया है।

एशिया कप में भारत और पाकिस्तान के बीच मैच के बाद से हिंदुओं को ब्रिटेन में निशाना बनाने की घटनाओं में इजाफा हुआ है। लिस्टर में सड़कों पर गाड़ियां रोककर हिंदुओं पर हमले से इसकी शुरुआत हुई थी। फिर यहीं एक हिंदू मंदिर पर उग्र मुस्लिमों की भीड़ ने धावा बोला था और जमकर तोड़फोड़ की थी। इस मामले में भारतीय उच्चायोग के विरोध जताने के बाद पुलिस ने बताया था कि उसने मंदिर में तोड़फोड़ करने वाले 40 से ज्यादा मुस्लिम कट्टरपंथियों को गिरफ्तार किया है। इसके बाद भी हिंदू मंदिरों पर हमले और उनके बाहर नारेबाजी की घटनाएं बंद नहीं हुई हैं।

लिस्टर के बाद मुस्लिम कट्टरपंथियों ने स्मेथविक के हिंदू मंदिर को भी निशाना बनाया था। भीड़ ने यहां जमकर उपद्रव और तोड़फोड़ की थी। स्मेथविक के मंदिर के बाहर भीड़ अल्लाहू अकबर का नारा लगाती देखी गई थी। इसके तमाम वीडियो भी वायरल हुए थे। पुलिस ने हालांकि यहां बल प्रयोग कर भीड़ को तितर बितर कर दिया था। अब ऋतंभरा का कार्यक्रम रद्द करने के आदेश से ये साफ है कि ब्रिटिश सरकार इन कट्टरपंथी ताकतों के आगे झुक गई है।

britain smethwick violence main

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement