Connect with us

दुनिया

Saudi Temple: सऊदी अरब में मिला 8000 साल पुराना मंदिर और यज्ञ की वेदी, जानिए किस देवता की होती थी पूजा

इसी जगह एक प्राचीन शहर का पता भी चला है। उस शहर के चारों कोनों पर मीनारें बनी थीं। पानी के कुंड और सिंचाई के लिए नहरें भी बनाई गई थीं। इससे साबित होता है कि सऊदी अरब अब भले ही रेगिस्तान हो, लेकिन पहले वहां काफी मात्रा में पानी मिलता था।

Published

on

रियाद। इस्लाम सबसे पहले सऊदी अरब में आया। इस्लाम के आने से पहले सऊदी अरब में लोग कौन सा धर्म मानते थे? इस सवाल का जवाब वहां की राजधानी रियाद के दक्षिण-पश्चिम में स्थित बंदरगाह शहर अल-फा से मिला है। अल-फा में खोदाई के दौरान प्राचीन मंदिर के अवशेष मिले हैं। मंदिर के अवशेषों में एक वेदी भी है। माना जा रहा है कि वहां पूजा-पाठ और यज्ञ हुआ करता था। खोदाई कर रहे पुरातत्ववेत्ताओं के मुताबिक यहां बड़ा परिसर था और ये करीब 8000 साल पहले बनाया गया था। नई तकनीकी वाली मशीनों से पूरे इलाके को खोदा जा रहा है। इसके साथ एरियल फोटोग्राफी, रिमोट और लेजर सेंसिंग भी की जा रही है।

ancient temple of saudi arabia 2

सऊदी गजट में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक अल-फा में लगातार खोदाई का काम पुरातत्ववेत्ता कर रहे थे। 40 साल में कई बार इस इलाके की खोदाई हो चुकी है। अब तक तमाम चीजें यहां मिली थीं, लेकिन पहली बार किसी मंदिर के अवशेष मिले हैं। पुरातत्ववेत्ताओं के मुताबिक यहां ऐसा समुदाय रहता था, जो बहुत कर्मकांडी था और यज्ञ वगैरा उनकी दिनचर्या में शामिल था। जो अवशेष मिला है, उसे पुरातत्ववेत्ता रॉक कट टेंपल बता रहे हैं। ये मंदिर तुवाईक नाम की पहाड़ी के पास था। बताया जा रहा है कि एक ही चट्टान को काटकर मंदिर बनाया गया था।

यहां एक शिलालेख भी मिला है। जिसमें ‘कहल’ नाम के देवता के बारे में जानकारी दी गई है। इसी जगह एक प्राचीन शहर का पता भी चला है। उस शहर के चारों कोनों पर मीनारें बनी थीं। पानी के कुंड और सिंचाई के लिए नहरें भी बनाई गई थीं। इससे साबित होता है कि सऊदी अरब अब भले ही रेगिस्तान हो, लेकिन पहले वहां काफी मात्रा में पानी मिलता था। फिलहाल मंदिर और प्राचीन शहर की साइट के पास ही कब्रिस्तान भी मिला है। जहां 2807 कब्रें मिली हैं। इससे लगता है कि सऊदी अरब में दाह संस्कार की जगह दफनाने की प्रक्रिया इस्लाम के आने से पहले से रही है।

यहां देखिए वीडियो-

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement