चीन के लिए एक और बुरी खबर, अब अमेरिका TikTok समेत चाइनीज ऐप पर करने जा रहा है बड़ी कार्रवाई

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा है कि अमेरिका टिकटॉक सहित अन्य चीनी सोशल मीडिया ऐप पर प्रतिबंध लगाने पर विचार कर रहा है। पोम्पियो ने सोमवार फॉक्स न्यूज को दिए साक्षात्कार में कहा, “हम इसे बहुत गंभीरता से ले रहे हैं।” 

Avatar Written by: July 7, 2020 10:45 am

नई दिल्ली। चीन को भारत से पंगा लेना महंगा पड़ रहा है। दरअसल अब दुनिया का सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका भी भारत की राह पर चलता नजर आ रहा है। चीन को सबक सिखाने के लिए अमेरिका भी टिक टॉक समेत चीनी मोबाइल ऐप पर प्रतिबंध लगाने पर गंभीरतापूर्वक विचार कर रहा है। इससे पहले चीन को सबक सिखाने के लिए पिछले दिनों भारत सरकार ने TikTok समेत 59 चाइनीज ऐप को बैन कर दिया था।

Modi and trump

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा है कि अमेरिका टिकटॉक सहित अन्य चीनी सोशल मीडिया ऐप पर प्रतिबंध लगाने पर विचार कर रहा है। पोम्पियो ने सोमवार फॉक्स न्यूज को दिए साक्षात्कार में कहा, “हम इसे बहुत गंभीरता से ले रहे हैं।”

उन्होंने कहा कि लोगों के सेलफोन में चीनी ऐप के संबंध में यह कुछ ऐसा है ‘जिस पर हम विचार कर रहे हैं।’ भारत ने पहले ही यह कहते हुए टिकटॉक सहित 59 चीनी ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया है। इन ऐप ने शत्रु तत्वों के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा और रक्षा पर प्रभाव डालने के लिए रास्ता खोल दिया।

पोम्पियो ने कहा कि लोगों को ऐप केवल तभी डाउनलोड करना चाहिए “अगर आप अपनी निजी जानकारी चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के हाथों में चाहते हैं।”
टिकटॉक की अमेरिका में अच्छी-खासी मौजूदगी है। इसने अभी तक कोई टिप्पणी नहीं की है।

mike pompeo

भारत में टिक टॉक बैन होने से चीनी कंपनी को करीब 6 अरब डॉलर का नुकसान हुआ है। पिछले दिनों भारत सरकार ने TikTok समेत 59 चाइनीज ऐप को बैन कर दिया था। इसके बाद चाइनीज कंपनियों की तरफ से सरकार से अपील की जा रही है कि वे भारतीय यूजर्स का डेटा चाइनीज सरकार के साथ शेयर नहीं कर रही थीं। टिकटॉक के सीईओ केविन मेयर ने भारत सरकार को चिट्ठी लिखकर कहा कि चाइनीज सरकार ने कभी भी यूजर्स के डेटा की मांग नहीं की है।

tiktok

आश्‍चर्य वाली बात यह है कि टिकटॉक को भले ही भारत में हाल फिलहाल में बैन किया गया गया है, लेकिन चीन में यह बहुत पहले से बैन है।