China: गुंडागर्दी पर उतरा ड्रैगन, ताइवान के मसले पर जापान को दे रहा पूरी तरह साफ करने की दी धमकी

ताइवान पर चीन लगातार अपना हक जताता है। वह ताइवान को अपना ही हिस्सा बताता है। हाल के दिनों में चीन के लड़ाकू विमान और बॉम्बर कई बार ताइवान की वायुसीमा का उल्लंघन कर चुके हैं। ताइवान की सरकार लगातार चीन के ऐसे उकसाने वाले कदमों पर प्रतिक्रिया देती है। जिसके बाद चीन के विमान अपने देश की तरफ लौट जाते हैं।

Avatar Written by: July 21, 2021 10:05 am
jinping Sad

वॉशिंगटन। कोरोना मामले में चौतरफा घिरने के बाद चीन अब दादागीरी की जगह गुंडागर्दी पर उतारू हो गया है। ड्रैगन ने अब ताइवान के मसले पर जापान को पूरी तरह नष्ट करने की धमकी दी है। अमेरिका के टीवी चैनल फॉक्स न्यूज के मुताबिक चीन की कम्युनिस्ट पार्टी यानी सीसीपी ने एक वीडियो जारी किया है। वीडियो में जापान को धमकी दी गई है कि अगर वह ताइवान के मसले पर दखल देगा, तो उसे खुली जंग का सामना करना होगा। इतना ही नहीं, चीन की कम्युनिस्ट पार्टी ने ये धमकी भी दी है कि परमाणु बम का हमला कर जापान को पूरी तरह नष्ट कर दिया जाएगा।
ताइवान पर चीन लगातार अपना हक जताता है। वह ताइवान को अपना ही हिस्सा बताता है। हाल के दिनों में चीन के लड़ाकू विमान और बॉम्बर कई बार ताइवान की वायुसीमा का उल्लंघन कर चुके हैं। ताइवान की सरकार लगातार चीन के ऐसे उकसाने वाले कदमों पर प्रतिक्रिया देती है। जिसके बाद चीन के विमान अपने देश की तरफ लौट जाते हैं।

China Japan

सीसीपी ने वीडियो में कहा है कि जापान ने अगर तौर-तरीका न बदला तो चीन उस पर परमाणु हमला करेगा और लगातार करेगा। धमकी के अंदाज में चीन की ओर से कहा गया है कि जापान पर उस वक्त तक हमले किए जाएंगे, जब तक वो दूसरी बार सरेंडर न कर दे। बता दें कि 1945 में दूसरे विश्व युद्ध के दौरान 6 और 9 अगस्त को जापान के हिरोशिमा और नागासाकी पर अमेरिका ने परमाणु बम गिराए थे। जिसके बाद जापान ने सरेंडर किया था।

Atom Bomb

इस बीच, अमेरिका ने पहले ही साफ कह दिया है कि वो हर हाल में ताइवान और जापान की रक्षा करेगा। ताइवान को अमेरिका की तरफ से काफी हथियार और गोला-बारूद दिया जाता है। दूसरे विश्व युद्ध के बाद जापान और अमेरिका के बीच समझौता हुआ था। इसके तहत जापान की सुरक्षा का जिम्मा अमेरिका का है।

Support Newsroompost
Support Newsroompost