Connect with us

दुनिया

Queen Elizabeth: लंदन लाया गया महारानी एलिजाबेथ का शव, आज से 4 दिन तक दर्शन कर सकेंगे आम लोग, 19 सितंबर को अंतिम संस्कार

इससे पहले स्कॉटलैंड के एडिनबर्ग में हजारों लोगों ने सेंट जाइल्स कैथेड्रल में महारानी के अंतिम दर्शन किए। 70 साल तक ब्रिटेन पर राज करने वाली महारानी एलिजाबेथ का निधन बीते 8 सितंबर को बाल्मोरल महल में हुआ था। उनके निधन के बाद बड़े बेटे चार्ल्स अब ब्रिटिश सम्राट हो गए हैं।

Published

coffin of queen elizabeth

लंदन। ब्रिटेन की दिवंगत महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का शव राजधानी लंदन लाया गया है। यहां भारतीय समय के मुताबिक आज शाम 7.30 बजे उनके ताबूत को वेस्टमिंस्टर हॉल में रखा जाएगा। यहां आम लोग महारानी के अंतिम दर्शन कर उन्हें श्रद्धांजलि दे सकेंगे। अभी इसमें कई घंटे हैं, लेकिन लोगों की कतार अभी से वेस्टमिंस्टर हॉल के बाहर दिखने लगी है। इससे पहले स्कॉटलैंड के एडिनबर्ग में हजारों लोगों ने सेंट जाइल्स कैथेड्रल में महारानी के अंतिम दर्शन किए। 70 साल तक ब्रिटेन पर राज करने वाली महारानी एलिजाबेथ का निधन बीते 8 सितंबर को बाल्मोरल महल में हुआ था। उनके निधन के बाद बड़े बेटे चार्ल्स अब ब्रिटिश सम्राट हो गए हैं।

वेस्टमिंस्टर हॉल में महारानी के अंतिम दर्शन के लिए आने वाले लोगों को दिक्कत न हो, इसके लिए सरकार और पुलिस ने काफी बंदोबस्त किए हैं। यहां अगले 4 दिन तक आम जनता महारानी एलिजाबेथ को श्रद्धांजलि दे सकेगी। जगह जगह पोर्टेबल टॉयलेट और अन्य जरूरी चीजों का इंतजाम सरकार ने किया है। लंदन में मौसम भी खराब है। इस वजह से लोगों को किसी मुश्किल से बचाने के लिए भी पुलिस और आपदा प्रबंधन दल ने पूरी व्यवस्था कर रखी है। महारानी एलिजाबेथ का अंतिम संस्कार 19 सितंबर को किया जाएगा। उनके शव को वेस्टमिंस्टर एब्बे ले जाया जाएगा। इससे पहले साल 1965 में ब्रिटेन के पीएम रहे सर विंस्टन चर्चिल का यहां अंतिम संस्कार हुआ था।

Queen Elizabeth II Death

शाही परंपरा के मुताबिक महारानी एलिजाबेथ का अंतिम संस्कार निधन के 10वें दिन किया जाएगा। बाल्मोरल कैसल से महारानी के ताबूत को सड़क के रास्ते ही लंदन लाया गया है। ब्रिटिश महारानी के निधन के बाद उनके तख्त को खाली नहीं रखा जा सकता था। ऐसे में प्रिवी काउंसिल और चर्च ऑफ इंग्लैंड ने आनन-फानन में चार्ल्स को ब्रिटिश सम्राट के पद पर बिठा दिया। चार्ल्स को पहले प्रिंस ऑफ वेल्स की उपाधि मिली थी। अब ये उपाधि उन्होंने अपने बड़े बेटे प्रिंस विलियम को दे दी है। चार्ल्स के न रहने पर विलियम ही ब्रिटेन के अगले सम्राट होंगे।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement