अब सीमा विवाद पर ड्रैगन को जापान ने दिखाई आंख, भारत के पक्ष में कहा कुछ ऐसा

नई दिल्ली में टोक्यो के राजदूत सातोशी सुजुकी ने शुक्रवार को खुलासा किया कि उन्होंने लद्दाख में भारत-चीन टकराव के शांतिपूर्ण समाधान के लिए सरकार के प्रयासों के बारे में विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रंगला से बातचीत की है।

Written by: July 3, 2020 3:55 pm

नई दिल्ली। भारत के प्रति मजबूत समर्थन जाहिर करते हुए जापान ने शुक्रवार को चीन पर निशाान साधा और कहा कि वह लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर यथास्थिति बदलने के किसी भी एकतरफा प्रयास का विरोध करता है। गौरतलब है कि पिछले महीने चीनी सैनिकों के साथ झड़प में भारतीय सेना के एक अधिकारी सहित 20 जवान शहीद हो गए थे।

नई दिल्ली में टोक्यो के राजदूत सातोशी सुजुकी ने शुक्रवार को खुलासा किया कि उन्होंने लद्दाख में भारत-चीन टकराव के शांतिपूर्ण समाधान के लिए सरकार के प्रयासों के बारे में विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रंगला से बातचीत की है।

सुजुकी ने बाद में ट्वीट किया, “विदेश सचिव श्रंगला के साथ अच्छी बातचीत हुई। शांतिपूर्ण समाधान को आगे बढ़ाने के लिए भारत सरकार की नीति सहित एलएसी पर स्थिति को लेकर उनकी ब्रीफिंग को सराहा। जापान भी बातचीत के माध्यम से शांतिपूर्ण समाधान की उम्मीद करता है। जापान यथास्थिति को बदलने के किसी भी एकतरफा प्रयास का विरोध करता है।”

यह बयान जापान द्वारा एक निश्चित कानून को संशोधित करने के हफ्तों बाद आया है, जो इसे भारत, आस्ट्रेलिया और ब्रिटेन के साथ रक्षा खुफिया जानकारी साझा करने की अनुमति देता है। अब तक, कानून केवल अपने निकटतम सहयोगी अमेरिका के साथ खुफिया जानकारी साझा करने की अनुमति देता था।