Pakistan Crude Oil : पाकिस्तान को क्रूड ऑयल खरीद पर नहीं मिली 30% का डिस्काउंट, मजबूरी में PAK ने उठाया ये कदम, रूस ने झटका दिया तो खेल खत्म?

Pakistan Crude Oil : रूस ने पिछले साल दिसंबर में 30 प्रतिशत रियायत पर कच्चा तेल देने के पाकिस्तान के आग्रह को खारिज कर दिया था। आर्थिक संकट के बीच IMF लोन को लेकर राजनीति  गौरतलब है कि आर्थिक संकट के बीच पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष से लोन हासिल करने कोशिशों में जुटा है। इसके लिए उसने IMF की तकरीबन हर शर्त मान ली है और लोगों पर भारी भरकम टैक्स भी जड़ दिया है। 

Avatar Written by: March 12, 2023 10:05 pm

इस्लामाबाद। मौजूदा समय में कैश संकट से जूझ रहा पाकिस्तान रूस से 50 डॉलर प्रति बैरल की दर से कच्चा तेल खरीदने की कोशिश में जुटा हुआ है। यह कीमत यूक्रेन-रूस युद्ध के कारण जी-7 देशों की ओर से तय मूल्य सीमा 10 डॉलर प्रति बैरल कम है। रविवार को प्रकाशित कुछ समाचारों में यह जानकारी दी गई। कच्चा तेल इस समय दुनियाभर में 82.78 डॉलर प्रति बैरल की दर से बेचा जा रहा है। भारी कर्ज और कमजोर मुद्रा के संकट से जूझ रहा पाकिस्तान रूस से रियायती दरों पर कच्चा तेल खरीदने के लिए उतावला हुआ जा रहा है।

आपको बता दें कि अखबार ‘द न्यूज’ के मुताबिक, रियायती दरों पर कच्चा तेल खरीदने की पाकिस्तान की अपील पर मास्को तभी प्रतिक्रिया देगा जब पड़ोसी देश भुगतान का माध्यम, प्रीमियम और बीमा के साथ परिवहन दर संबंधी औपचारिकताएं पूरी कर लेगा। मास्को से कच्चे तेल की पहली खेप अगले महीने के अंत तक पाकिस्तान पहुंच सकती है। इसके बाद भविष्य में और बड़ा सौदा हो सकता है। रिपोर्ट में कहा गया कि रूस के बंदरगाहों से कच्चा तेल पहुंचने में 30 दिन लगेंगे। ऐसे में परिवहन लागत के कारण कच्चे तेल की कीमत प्रति बैरल 10-15 डॉलर तक की बढ़ोत्तरी होगी।

गौरतलब है कि एक्सप्रेस ट्रिब्यून के मुताबिक, रूस पहले तेल समझौता करने के संबंध में पाकिस्तान की स्थिति को लेकर चिंतित था, लेकिन हाल ही में दोनों देशों के अधिकारियों की बैठक के बाद मास्को ने इस्लामाबाद को शुरुआत में तेल का जहाज भेजने पर सहमति जताई है। रिपोर्ट के अनुसार, चूंकि पाकिस्तान में अमेरिकी डॉलर का संकट है तो वह रूस को मित्र देशों- चीन, सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) की मुद्राओं में भुगतान करेगा। रूस ने पिछले साल दिसंबर में 30 प्रतिशत रियायत पर कच्चा तेल देने के पाकिस्तान के आग्रह को खारिज कर दिया था। आर्थिक संकट के बीच IMF लोन को लेकर राजनीति  गौरतलब है कि आर्थिक संकट के बीच पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष से लोन हासिल करने कोशिशों में जुटा है। इसके लिए उसने IMF की तकरीबन हर शर्त मान ली है और लोगों पर भारी भरकम टैक्स भी जड़ दिया है।

Latest