Connect with us

दुनिया

Afghanistan: तालिबान को लेकर रणनीति बनाने में जुटे PM मोदी, रूसी राष्ट्रपति पुतिन से लंबी बातचीत

PM Modi Putin Talk: मोदी ने सोमवार शाम को जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल और शनिवार को अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन से बातचीत की थी। माना जा रहा है कि काबुल और अफगानिस्तान के दूसरे हिस्सों में फंसे भारतीयों, अफगान मूल के सिख और हिंदुओं को भारत लाने के लिए मोदी इन नेताओं से बातचीत कर रहे हैं।

Published

on

PM Modi and Putin

नई दिल्ली। तालिबान के अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद से पैदा हुए हालात पर भारत लगातार दूसरे देशों से संपर्क में है। इसी कड़ी में आज पीएम नरेंद्र मोदी ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन से लंबी बातचीत की। इससे पहले मोदी ने सोमवार शाम को जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल और शनिवार को अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन से बातचीत की थी। माना जा रहा है कि काबुल और अफगानिस्तान के दूसरे हिस्सों में फंसे भारतीयों, अफगान मूल के सिख और हिंदुओं को भारत लाने के लिए मोदी इन नेताओं से बातचीत कर रहे हैं। बता दें कि रूस के राजदूत ने तालिबान की तारीफ की थी और उसे काबुल में हालात कंट्रोल में करने वाला बताया था। अब तक भारत करीब 750 भारतीय समेत 1000 लोगों को उड़ानों के जरिए यहां ला चुका है। काबुल में तालिबान के घुसने के बाद भारत ने वहां के लोगों को शरण देने का एलान किया था।

आज सुबह ही काबुल से एक फ्लाइट के जरिए 25 भारतीयों समेत 78 लोगों को भारत लाया गया। इन सभी को पहले ताजिकिस्तान की राजधानी दुशांबे ले जाया गया था। इसके अलावा कतर की राजधानी दोहा होते हुए भी भारतीयों को लाने का सिलसिला चल रहा है। काबुल के एक गुरुद्वारे में करीब 200 सिख और हिंदू फंसे हुए थे। इनमें से कुछ को लाया गया है। पवित्र गुरुग्रंथ साहिब की तीन प्रतियां भी देश लाई गई हैं। काबुल पर तालिबान ने पूरी तरह कब्जा जमा लिया है। देश के 34 में से 33 जिले उसके कब्जे में हैं। सिर्फ उत्तर की पंजशीर घाटी का इलाका उसके कब्जे से बाहर है।

Modi putin talk

वहां नॉर्दर्न अलायंस के अहमद मसूद और अफगानिस्तान के पूर्व उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह की सेनाएं तालिबान को बड़ा नुकसान पहुंचा रही हैं। अब तक नॉर्दर्न अलायंस से मुकाबले में 400 के करीब तालिबान मारे जा चुके हैं। जबकि, सैकड़ों को गिरफ्तार किया गया है। ताजिकिस्तान के रास्ते हेलीकॉप्टरों से अलायंस के लिए बड़ी तादाद में हथियार भी पहुंचाए जाने की खबर है।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement