Connect with us

दुनिया

S Jaishankar in US: ‘चीन के साथ बेहतर संबंधों के लिए प्रयास करते हैं लेकिन…’, वाशिंगटन डीसी में एस जयशंकर ने ड्रैगन को दिया सख्त संदेश

S Jaishankar in US: पाकिस्तान के साथ मिलकर चीन भारत के खिलाफ रणनीति बनाता रहता है लेकिन भारत अपने विरोधियों को भी गले से लगाता है। यही खासियत भारत को सबसे अलग बनाती है। अब इस बीच एस जयशंकर का ये बयान काफी चर्चा में है जिसमें उन्होंने ड्रैगन यानी चीन को लेकर भारत का पक्ष रखा है।

Published

on

नई दिल्ली। भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) अपने मुखर अंदाज के लिए जाने जाते हैं। जब भी बात देश की आती है तो एस जयशंकर सख्त लहजे में अपने विचारों को रखते हैं। चीन के साथ भारत के रिश्ते किस तरह के हैं इससे तो हर भारतीय वाकिफ है। पाकिस्तान के साथ मिलकर चीन भारत के खिलाफ रणनीति बनाता रहता है लेकिन भारत अपने विरोधियों को भी गले से लगाता है। यही खासियत भारत को सबसे अलग बनाती है। अब इस बीच एस जयशंकर का ये बयान काफी चर्चा में है जिसमें उन्होंने ड्रैगन यानी चीन को लेकर भारत का पक्ष रखा है।

अमेरिका के वॉशिंगटन डीसी स्थित इंडिया हाउस में थिंक-टैंक और रणनीतिक समुदाय के साथ विदेश मंत्री एस जयशंकर की अलग-अलग मुद्दों पर बातचीत हुई। विदेश मंत्री ने इस दौरान चीन के भारत के साथ संबंधों को लेकर भी विचार रखे। जयशंकर ने कहा, ‘चीन के साथ भारत “आपसी” संवेदनशीलता, सम्मान और रुचि पर आधारित संबंध बनाए रखना जारी रखेगा।’

चीन को लेकर आगे बात करते हुए एस जयशंकर ने ये भी बताया कि कैसे भारत के साथ उस देश के रिश्ते ‘ठीक’ हैं। मीडिया ब्रीफिंग के दौरान जोर देते हुए जयशंकर ने कहा, ‘मैंने जो कहा है वो हमारे संबंधों की स्थिति के सटीक नीति मूल्यांकन का प्रतिनिधित्व करता है। हम चीन के साथ संबंध के लिए प्रयास जारी रखेंगे हैं, जो आपसी संवेदनशीलता, आपसी सम्मान और आपसी हित पर बना है।’

jaishankar parsad

आपको बता दें कि भारत के विदेश मंत्री जयशंकर बिना किसी शंका के सीधे और बेबाक अंदाज़ में अपनी बात कहने के लिए मशहूर हैं। साल 2019 में जब देश के प्रधानमंत्री द्वारा उन्हें ये पद दिया गया तभी से उनका ये मुखर स्वरूप चर्चा में है। हालांकि बीते कुछ समय में उनका ये अंदाज अब देश की सुरक्षा को लेकर और भी तीखा-सटीक हो गया है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement