बजाज ऑटो का एक भी वाहन भारतीय बाजार में नहीं बिका, फिर भी हुआ इतना निर्यात

देश में कोरोनावायरस के प्रकोप को देखते हुए लॉकडाउन घोषित किया गया। जिसके तहत सभी ऑटोमोबाइल डीलरशिप बंद रहे। जिसकी वजह से इन कंपनियों को काफी नुकसान झेलना पड़ा।

Avatar Written by: May 4, 2020 2:27 pm

नई दिल्ली।  देश में कोरोनावायरस के प्रकोप को देखते हुए लॉकडाउन घोषित किया गया। जिसके तहत सभी ऑटोमोबाइल डीलरशिप बंद रहे। जिसकी वजह से इन कंपनियों को काफी नुकसान झेलना पड़ा।

bajaj 4

देश की जानी-मानी ऑटोमोबाइल कंपनी बजाज ऑटो ने अपनी अप्रैल महीने की अपनी सेल्स रिपोर्ट जारी की है। जिसमें बाकी ऑटोमोबाइल कंपनियों की तरह बजाज के लिए भी अप्रैल 2020 ऐसा महीना रहा है, जिसमें कंपनी ने भारतीय बाजार में एक भी टू-व्हीलर और कमर्शियल व्हीकल नहीं बेचा।

bajaj

लॉकडाउन की वजह से कंपनी की घरेलू बाजार में एक भी बिक्री नहीं हुई, लेकिन इसके बावजूद कंपनी ने 32,009 टू व्हीलर्स की यूनिट्स को एक्सपोर्ट किया। अगर इसकी तुलना अप्रैल, 2019 में एक्सपोर्ट की गई 160,393 यूनिट्स से की जाए तो उसमें 80 फीसद की गिरावट देखने को मिली। इसी प्रकार कंपनी ने अप्रैल, 2020 में कमर्शियल व्हीकल की 5,869 यूनिट्स को एक्सपोर्ट किया जो कि पिछले साल इसी महीने में एक्सपोर्ट की गई 30,818 यूनिट्स की तुलना में 81 फीसद कम थी।

कंपनी ने स्थानीय प्रशासन से अनुमति मिलने के बाद अपने दो प्लांट औरंगाबाद के वालुज और उत्तराखंड के रुद्रपुर में काम को फिर से शुरू कर दिया है। जबकि रुद्रपुर प्लांट में काम को 20 अप्रैल, 2020 से शुरू कर दिया गया था, वहीं औरंगाबाद प्लांट में काम को 24 अप्रैल, 2020 से शुरू किया गया।

गृह मंत्रालय द्वारा जारी गाइडलाइंस के अनुसार, 20 अप्रैल, 2020 से ग्रामीण इलाकों में मौजूद प्राइवेट इंडस्ट्रीज और इंडस्ट्रियल कारोबारों को शुरू करने की अनुमति दी गई, जिसके बाद इन ऑटोमोबाइल प्लांट में काम को फिर से शुरू किया गया।

Support Newsroompost
Support Newsroompost