Connect with us

ऑटो

Traffic Rules: पुलिस ने बिना गलती के काटा चालान तो ऐसे कराएं उसे रद्द नहीं तो भरना पड़ेगा जुर्माना

Traffic Rules:जो लोग यातायात के नियमों को तोड़ते है, उन पर मौजूदा मोटर वाहन से जुड़े कानूनों के तहत कार्रवाई की जाती है। इनमें जुर्माना लगाने से लेकर जेल भेजे जाने तक का प्रावधान है।

Published

on

नई दिल्ली। जब आप मोटर वाहन से सड़क पर सफर कर रहे होते है तो आपको कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए। गलती किसी की भी हो लेकिन जब आप मोटर वाहन के साथ सड़क पर जा रहे होते हैं तो गलतियों की गुंजाइश कम से कम होनी चाहिए। ऐसा तभी होगा जब आप यातायात के सभी नियमों का पूरी तरीके से मानेंगे। केंद्र सरकार और तमाम राज्यों की सरकारें भी इस बात पर पूरा फोकस करती है कि लोग यातायात नियमों का पालन करें। इसके लिए कठोर नियम भी बनाए गए है। जो लोग यातायात के नियमों को तोड़ते है, उन पर मौजूदा मोटर वाहन से जुड़े कानूनों के तहत कार्रवाई की जाती है। इनमें जुर्माना लगाने से लेकर जेल भेजे जाने तक का प्रावधान है।

यातायात के नियमों का उल्लंघन

अधिकत्तर यातायात नियमों का उल्लंघन करने पर लोगों का चालान काटा जाता है। लेकिन, इसका मतलब यह नहीं है कि उन्हें जेल नहीं होगी। कई ऐसे यातायात कानून हैं, जिनका पालन न करने पर जेल भी हो सकती है। इसीलिए, हम सभी को यातायात कानून का पालन करना चाहिए। लेकिन, यहां एक और बात आ जाती है कि जैसे किसी दूसरे से कुछ गलती हो सकती है, वैसे ही यातायात पुलिस से भी त्रुटी हो सकती है। समझ लीजिए कि यातायात पुलिस ने आपका गलती से चालान काट दिया तो इसका यह मतलब बिल्कुल नहीं है कि अब उस चालान का जुर्माना आपको भरना ही पड़ेगा।

गलत तरीके से चालान कटने पर करें शिकायत

अगर आपका गलत तरीके से चालान कटा है तो इसके लिए भी नियम है कि अगर कोई यातायात पुलिसकर्मी आपका गलती से चालान काट दे और आपको लगता है कि आपने किसी यातायात नियम का उल्लंघन नहीं किया तो आप इसके लिए संबंधित विभाग के बड़े अधिकारी से शिकायत कर सकते हैं। और यह बता सकते हैं कि आपने यातायात के कोई नियम का उल्लंघन नहीं किया, आपका गलत तरीके से चालान काटा गया है। अगर वह आपकी शिकायत सही होगी आपने वाकई में कोई गलती नहीं कि होगी तो आपका चालान कैंसल कर दिया जाएगा। यह शिकायत आप अपने शहर के यातायात पुलिस विभाग के ऑफिस में जाकर कर सकते हैं। इसके अलावा अगर फिर भी आपका चालान कैंसल नहीं होता तो आप इस मामले को लेकर कोर्ट तक भी जा सकते है और इस चालान को चैलेंज कर सकते हैं।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement