आम बजट के बाद सेंसेक्स फिर 50,000 के पार, निफ्टी 450 अंक उछला

बजट के बाद देश के शेयर बाजार (Share Market) में बहार लौटी है। घरेलू शेयर बाजार मंगलवार को लगातार दूसरे दिन मजबूत बढ़त के साथ खुला और सेंसेक्स (Sensex) कारोबर के शुरुआती घंटे के भीतर 50,000 के पार सर्वाधिक ऊंचाई के करीब पहुंच गया और निफ्टी (Nifty) भी 14,700 के ऊपर चला गया।

Written by: February 2, 2021 10:30 am
Sensex

नई दिल्ली। बजट के बाद देश के शेयर बाजार (Share Market) में बहार लौटी है। घरेलू शेयर बाजार मंगलवार को लगातार दूसरे दिन मजबूत बढ़त के साथ खुला और सेंसेक्स (Sensex) कारोबर के शुरुआती घंटे के भीतर 50,000 के पार सर्वाधिक ऊंचाई के करीब पहुंच गया और निफ्टी (Nifty) भी 14,700 के ऊपर चला गया। आरंभिक कारोबार के दौरान सेंसेक्स पिछले सत्र के मुकाबले 1,500 अंकों से ज्यादा उछला और निफ्टी में 450 अंकों की तेजी दर्ज की गई। बैंकिंग, वित्तीय, औद्योगिक समेत तमाम सेक्टरों में जोरदार लिवाली बनी हुई थी।

sensex 1

सेंसेक्स पूर्वाह्न् 11.02 बजे पिछले सत्र से 1067.93 अंकों यानी 2.20 फीसदी की तेजी के साथ 49,668.54 पर कारोबार कर रहा था जबकि निफ्टी 314.05 अंकों यानी 2.20 फीसदी की तेजी के साथ 14,595.25 पर बना हुआ था।

Share-market-sensex

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले 592.65 अंकों की तेजी के साथ 49,193.26 पर खुला और 50,154.48 तक उछला जबकि इस दौरान इसका निचला स्तर 49,193.26 रहा। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी पिछले सत्र से 199.90 अंकों की बढ़त के साथ 14,481.10 पर खुला और कारोबार के दौरान 14,731.70 तक उछला जबकि इस दौरान निफ्टी का निचला स्तर 14,469.15 रहा।

बाजार के जानकार बताते हैं कि आम बजट से बाजार खुश हुआ है इसलिए निवेशकों की तरफ से सकारात्मक प्रतिक्रिया मिल रही है और विदेशी संस्थागत निवेशकों की लिवाली फिर लौटी है। वहीं, वैश्विक संकेत भी मजबूत रहने से बाजार को सपोर्ट मिला। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को आम बजट 2021-22 संसद में पेश किया। निवेश सलाहकार शोमेश कुमार ने आईएएनएस को बताया शेयर बाजार ने इसलिए इस बजट पर सकारात्मक प्रतिक्रिया जाहिर की है क्योंकि इससे देश के आर्थिक विकास में तेजी आने की उम्मीद की जा रही है। उन्होंने कहा कि बाजार में इस समय लिवाली का रुख एक बार फिर बन गया है।

sensex F1

वहीं, बजट के संबंध में आईएमसी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के प्रेसीडेंट राजीव पोद्दार ने बताया कि आगामी वित्त वर्ष का बजट विकासोन्मुखी है और कोरोना महामारी की मार से चरमराई देश की अर्थव्यवस्था को इससे पटरी पर लाने में मदद मिलेगी।

Support Newsroompost
Support Newsroompost