कोरोना की वजह से पटरी से उतरी अर्थव्यवस्था को लेकर मिले अच्छे संकेत, नवंबर में सरकार को मिला इतना राजस्‍व

GST Collection: ऐसे में देश के अंदर कोरोना(Corona) काल की वजह से पटरी से उतर चुकी अर्थव्यवस्था को लेकर अब कुछ ऐसे संकेत मिले हैं जिनसे पता चलता है कि देश की अर्थव्यवस्था(Economy) अब वापस पटरी पर लौट रही है।

Avatar Written by: December 1, 2020 5:05 pm
GST Collection

नई दिल्ली। कोरोना संकट की वजह से दुनियाभर के देशों में आर्थिक मंदी छा चुकी है। भारत भी इससे अछूता नहीं रहा है। ऐसे में देश के अंदर कोरोना काल की वजह से पटरी से उतर चुकी अर्थव्यवस्था को लेकर अब कुछ ऐसे संकेत मिले हैं जिनसे पता चलता है कि देश की अर्थव्यवस्था अब वापस पटरी पर लौट रही है। इसका एक संकेत माल एवं सेवा कर (GST) संग्रह से साफ दिखाई पड़ रहा है। बता दें कि वित्त मंत्रालय की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार नवंबर 2020 के दौरान देश में 10,4,963 करोड़ रुपये के GST राजस्‍व मिला है। वहीं इसके पिछले साल नवंबर में 10,3,491 करोड़ रुपये का जीएसटी राजस्‍व प्राप्‍त हुआ था। बता दें कि वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस संग्रह को लेकर कहा कि, जीएसटी राजस्‍व में हालिया रिकवरी ट्रेंड के अनुसार, नवंबर, 2020 में जो जीएसटी राजस्‍व संग्रह प्राप्‍त हुए हैं वो पिछले साल की कुल राजस्‍व की तुलना में 1.4 प्रतिशत अधिक हुआ है।gst

वहीं अगर अक्‍टूबर में माल एवं सेवा कर (जीएसटी) संग्रह के आंकड़ों पर ध्यान दें तो यह 1.05 लाख करोड़ रुपये रहा था। फरवरी के बाद पहली बार अक्‍टूबर में जीएसटी संग्रह का आंकड़ा एक लाख करोड़ रुपये के पार गया था। 31 अक्टूबर, 2020 तक दाखिल किए गए कुल जीएसटीआर-3बी रिटर्न की संख्या 80 लाख थी।

इतना ही नहीं अक्टूबर, 2020 में जीएसटी संग्रह कुल 1,05,155 करोड़ रुपये रहा। इसमें एसजीएसटी का 5,411 करोड़ रुपये, सीजीएसटी का हिस्सा 19,193 करोड़ रुपये, आईजीएसटी का 52,540 करोड़ रुपये (इसमें वस्तुओं के आयात पर 23,375 करोड़ रुपये का संग्रह भी शामिल है) और 8,011 करोड़ रुपये का उपकर (932 करोड़ रुपये आयातित वस्तुओं पर) था।

बता दें कि पिछले साल के समान महीने से अक्टूबर, 2020 में जीएसटी संग्रह 10 प्रतिशत अधिक था। अक्टूबर, 2019 में जीएसटी संग्रह 95,379 करोड़ रुपये रहा था।

Support Newsroompost
Support Newsroompost