Connect with us

बिजनेस

Tata To Buy Bisleri: बिसलेरी को खरीदने की तैयारी में टाटा, रमेश चौहान ने ब्रांड बेचने की बताई ये वजह

जानकारी के मुताबिक बिसलेरी को बेचने के लिए रमेश चौहान ने एक वक्त नेस्ले, डेनॉन और रिलायंस रिटेल से भी बातचीत की थी, लेकिन इन सभी से डील नहीं हो सकी। रमेश चौहान ने टाटा ग्रुप के चेयरमैन एन. चंद्रशेखरन और टीसीपीएल के सीईओ सुनील डिसूजा से बातचीत के बाद टाटा को बिसलेरी ब्रांड बेचने का मन बनाया।

Published

on

ratan tata and bisleri

मुंबई। उद्योग जगत से बड़ी खबर आ रही है। खबर ये है कि पैक्ड मिनरल वॉटर बेचने वाली दिग्गज कंपनी बिसलेरी को टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स लिमिटेड (टीसीपीएल) खरीदने वाली है। ये डील 7000 करोड़ रुपए में होगी। खबरों के मुताबिक दो साल से बिसलेरी को खरीदने के लिए दोनों के बीच बातचीत चल रही थी। अब डील जल्दी ही फाइनल होने वाली है। ये खबर आते ही शेयर बाजार में टीसीपीएल के शेयर्स में तेजी दिखाई दी। टीसीपीएल के शेयर्स 2.28 फीसदी बढ़कर 787 रुपए में ट्रेडिंग करने लगे। जानकारों के मुताबिक टाटा के खरीद के बाद भी बिसलेरी का अभी का मैनेजमेंट अगले 2 साल तक कामकाज देखेगा। बिसलेरी के मालिक रमेश चौहान हैं। उनकी उम्र 82 साल है। उनकी बेटी जयंती के बारे में कहा जा रहा है कि उनको बिजनेस में रुचि नहीं है।

ramesh chauhan bisleri

टाटा की ओर से बिसलेरी को खरीदने की खबर आने के बाद रमेश चौहान ने बयान दिया है। चौहान ने कहा है कि टाटा ग्रुप हमारे ब्रांड को आगे ले जा सकता है। हालांकि, उन्होंने बिसलेरी को बेचने के काम को दुखद और कठिन फैसला बताया। रमेश चौहान ने कहा कि कई दूसरी कंपनियां भी बिसलेरी को खरीदना चाहती थीं, लेकिन वो टाटा ग्रुप के साथ जाने के लिए इस वजह से तैयार हुए क्योंकि उसका कल्चर, वैल्यू और ईमानदारी जगजाहिर है।

tata

जानकारी के मुताबिक बिसलेरी को बेचने के लिए रमेश चौहान ने एक वक्त नेस्ले, डेनॉन और रिलायंस रिटेल से भी बातचीत की थी, लेकिन इन सभी से डील नहीं हो सकी। रमेश चौहान ने टाटा ग्रुप के चेयरमैन एन. चंद्रशेखरन और टीसीपीएल के सीईओ सुनील डिसूजा से बातचीत के बाद टाटा को अपना बिसलेरी ब्रांड बेचने का मन बनाया।

Advertisement
Advertisement
Advertisement