बिहारः पटना में कोरोनावायरस से पहली मौत, 38 साल का था मरनेवाला युवक

पटना एम्स से मिल रही खबर के मुताबिक सैफ रोगी डायलिसिस पर था। हमने उसका सैंपल लिया और जांच के लिए आरएमआरआई भेज दिया। एम्स में अभी कोरोना के 6 संदिग्ध मरीज भर्ती हैं उनके सैंपल भी जांच के लिए भेजे गए हैं।

Written by: March 22, 2020 1:17 pm

नई दिल्ली। बिहार में कोरोनावायरस से पहली मौत हुई है। 38 साल का सैफ अली मुंगेर का रहने वाला था। वह कतर से आया था और 20 मार्च को एम्स में भर्ती हुआ था। सैफ डायबिटीज का रोगी था और उसका किडनी भी खराब थी। एम्स में उसे आइसोलेशन वार्ड में रखा गया था। डॉक्टरों ने उसकी मौत की वजह किडनी फेल होना बताई।

Coronavirus

डॉक्टरों ने कहा कि वो दो दिन पहले कोलकाता से यहां आया था। पटना एम्स का मानें तो शनिवार सुबह कोरोना संक्रमित सैफ की की मौत हुई है। उसकी ट्रैवल हिस्ट्री थी। शनिवार देर रात उसके कोरोना पॉजिटिव की रिपोर्ट आई। एक और कोरोना का मरीज एनएमसीएच में भर्ती है। वह स्कॉटलैंड में रहते हैं।

Patna AIIMS

पटना एम्स से मिल रही खबर के मुताबिक सैफ रोगी डायलिसिस पर था। हमने उसका सैंपल लिया और जांच के लिए आरएमआरआई भेज दिया। एम्स में अभी कोरोना के 6 संदिग्ध मरीज भर्ती हैं उनके सैंपल भी जांच के लिए भेजे गए हैं। गया में कोनारो के संदिग्ध की मौत गया में बीटीएमसी (बोधगया टेंपल मैनेजमेंट कमेटी) के ड्राइवर अर्जुन कुमार की संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई। 5 दिन पहले अर्जुन कोरोनावायरस के लक्षण आने पर एक निजी क्लीनिक में भर्ती हुआ था।

Patna AIIMS Corona

शनिवार की रात 11:25 बजे मेडिकल कॉलेज में भर्ती होने के बाद 12 बजे उसकी मौत हो गई। आज इसकी रिपोर्ट आ सकती है। बताया जाता है कि यहां कोरोना के लक्षण पाए जाने के बाद भी जांच के लिए नमूने नहीं भेजे गए थे।