चीन ने कोरोनावायरस का इलाज विकसित करने का किया दावा, 91% कारगर है ये दवा

कोरोनावायरस को लेकर दुनियाभर में मचे कोहराम के बीच एक बेहद ही अच्छी खबर सामने आई है। कोरोनावायरस से सबसे अधिक प्रभावित चीन ने एक दवा से अपने हजारों मरीजों को कोरोना वायरस संक्रमण से ठीक करने का दावा किया है।

Written by: March 20, 2020 1:20 pm

नई दिल्ली। कोरोनावायरस को लेकर दुनियाभर में मचे कोहराम के बीच एक बेहद ही अच्छी खबर सामने आई है। कोरोनावायरस से सबसे अधिक प्रभावित चीन ने एक दवा से अपने हजारों मरीजों को कोरोना वायरस संक्रमण से ठीक करने का दावा किया है। इस दावे को करते हुए खुद चीनी सरकार ने ये माना है कि ये दवा इतनी इफेक्टिव है कि कोई भी कोरोनावायरस का मरीज मात्र चार दिन में ठीक होकर घर चला जा रहा है।

Coronavirus outbreak in China

गौरतलब है कि चीन में कोरोनावायरस से प्रभावित सबसे ज्यादा लोग पाए गए हैं क्योंकि इसकी शुरुआत चीन से ही बताई जा रही है। चीन में इस वायरस को फैले हुए करीब 2 महीने से ऊपर कर समय हो गया है। वहां अभी तक 81,193 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके है। लेकिन चीन की सरकार के मुताबिक इनमें से लगभग 71,258 लोग ठीक होकर घर भी जा चुके हैं। दूसरी तरफ अब तक चीन में 3,252 लोग इस वायरस की वजह से दम भी तोड़ चुके हैं। चीनी सरकार का दावा है कि इस दवा से 91 फीसदी असर पड़ता है।

coronavirus china

वहीं दूसरी तरफ कोरोना के बढ़ते कहर के बीच अब अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने चीन पर हमलावर रुख अपनाना शुरू कर दिया है। ट्रंप ने चीन पर आरोप लगाया है कि उसने कोरोनावायरस को लेकर प्रारंभिक सूचना को पूरी दुनिया से छिपाने की कोशिश की जिसकी वजह से आज पूरी दुनिया में ये संकट पैदा हुआ है।

गौरतलब है कि डोनाल्‍ड ट्रंप का बयान ऐसे वक्त पर आया है जब इटली में कोरोना से मरने वालों की संख्‍या चीन से भी अधिक हो गई है। अमेरिका में कोरोना से मरने वालों का ये आंकड़ा 200 के पार पहुंच गया है जो कि अमेरिका के लिए चिंता का विषय है।

Coronavirus

ता दें इससे पहले कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने खुद को ‘वॉर-टाइम प्रेसिडेंट’ बताते हुए घोषणा की थी कि वह आपातकालीन शक्तियों का आह्वान कर रहे हैं। इसके माध्यम से उन्हें निजी क्षेत्र की क्षमता का उपयोग करने की अनुमति मिल जाएगी। उन्होंने कोरोनोवायरस महामारी के बढ़ते प्रभाव के चलते यह निर्णय लिया है।

कोविड-19 संक्रमण के चलते अमेरिका में 130 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा, “कोविड-19 के मामलों में वृद्धि देखने को मिली है इसलिए मैं डिफेंस प्रोडक्शन एक्ट का आह्वान कर रहा हूं। हमें इसकी जरूरत पड़ सकती है।”