आबादी की औसत से भारत में कोरोना के मामले और मृत्यु दर विश्व में सबसे कम : स्वास्थ्य मंत्रालय

देश में कोरोना के प्रकोप को देखते हुए हो रही कोरोना की टेस्टिंग पर मंत्रालय ने कहा, ‘‘कोविड-19 की रोकथाम के लिए राष्ट्रीय और राज्य सरकार के स्तर पर समन्वित प्रयासों के कारण लगातार उत्साहजनक परिणाम मिल रहे हैं।

Written by: July 7, 2020 8:38 pm

नई दिल्ली। मंगलवार को स्वास्थ्य मंत्रालय ने भारत में कोरोना के मामलों को लेकर कहा कि, भारत में दस लाख की आबादी पर कोरोना वायरस के मामले और मृत्यु दर दुनिया में सबसे कम है। बता दें कि भारत में कोरोना के मामलों की कुल संख्या सात लाख के आंकड़ें को पार कर चुकी है और मृतकों की संख्या 20,160 हो गयी है।

corona vaccine trial

छह जुलाई की डब्ल्यूएचओ (WHO) की स्थिति रिपोर्ट-168 का हवाला देते हुए मंत्रालय ने कहा कि भारत में प्रति दस लाख की आबादी पर कोविड-19 के मामलों की संख्या 505.37 है जबकि वैश्विक औसत 1,453.25 है. चिली में प्रति दस लाख आबादी पर 15,459.8 मामले हैं जबकि पेरू में प्रति दस लाख आबादी पर 9,070.8 संक्रमित हैं।

भारत में सबसे कम मृत्यु दर

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका, ब्राजील, स्पेन, रूस, ब्रिटेन, इटली और मेक्सिको में प्रति दस लाख आबादी पर संक्रमण के क्रमश: 8,560.5, 7,419.1, 5,358.7, 4,713.5, 4,204.4, 3,996.1 और 1,955.8 मामले हैं। मंत्रालय ने कहा, ‘‘डब्ल्यूएचओ की स्थिति रिपोर्ट से यह भी जाहिर होता है कि भारत में प्रति दस लाख आबादी पर (कोविड-19 के कारण) सबसे कम मृत्यु दर है। भारत में प्रति दस लाख आबादी पर मौत के मामले 14.27 है जबकि वैश्विक औसत चार गुणा 68.29 है।’’ डब्ल्यूएचओ की रिपोर्ट के मुताबिक ब्रिटेन में प्रति दस लाख आबादी पर 651.4 मौत हुई है जबकि स्पेन, इटली, फ्रांस, अमेरिका, पेरू, ब्राजील और मेक्सिको में यह आंकड़ा क्रमश: 607.1, 576.6, 456.7, 391.0, 315.8, 302.3 और 235.5 है।

Delhi Corona Dead Body

आईसीयू और वेंटिलेटर सुविधा

आईसीयू और वेंटिलेटर सुविधाओं को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकारी दी कि, कोरोना वायरस के मामलों से प्रभावी तरीके से निपटने के लिए देश में अस्पतालों के ढांचे को बेहतर बनाया गया है। मंत्रालय ने कहा कि तैयारी के तहत ऑक्सीजन सहायतित आईसीयू और वेंटिलेटर सुविधाओं का इंतजाम किया गया। सात जुलाई तक कोविड के 1201 समर्पित अस्पताल, 2611 कोविड स्वास्थ्य केंद्र और 9909 कोविड देखभाल केंद्र हैं, जहां अति गंभीर से लेकर बहुत हल्के लक्षण वाले मरीजों का उपचार हो रहा है।

मृत्यु दर को लेकर मंत्रालय ने कहा

मृत्यु दर को लेकर मंत्रालय ने कहा, ‘‘इस तरह की तैयारी से ठीक होने की दर लगातार बढ़ रही है और इस वजह से मृत्यु दर भी कम है।’’ मंत्रालय के मुताबिक, ‘‘कोविड-19 के मामलों का जल्द पता लगा लेने और समय से प्रभावी नैदानिक प्रबंधन के कारण ठीक होने की दर लगातार बेहतर हो रही है।’’ पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस के 15,515 मरीज ठीक हो गए। इस तरह मंगलवार तक ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 4,39,947 हो गयी है।

Truenet machine Corona Test

टेस्टिंग पर मंत्रालय ने कहा

देश में कोरोना के प्रकोप को देखते हुए हो रही कोरोना की टेस्टिंग पर मंत्रालय ने कहा, ‘‘कोविड-19 की रोकथाम के लिए राष्ट्रीय और राज्य सरकार के स्तर पर समन्वित प्रयासों के कारण लगातार उत्साहजनक परिणाम मिल रहे हैं। वर्तमान में संक्रमण के 2,59,557 मामले हैं और सभी चिकित्सकीय निगरानी में हैं।’’ मंत्रालय ने कहा कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में व्यापक स्तर पर जांच की जा रही है। परिणामस्वरूप हर दिन दो लाख जांच की जा रही है। पिछले 24 घंटे के दौरान 2,41,430 नमूनों की जांच की गयी। इस तरह देश में 1,02,11,092 नमूनों की जांच हो चुकी है।