New Concern: कोरोना के ‘सबसे खतरनाक वैरिएंट’ से दुनिया में खलबली, शेयर बाज़ार भी घबराया, दक्षिण अफ्रीका-हॉन्ग कॉन्ग पर नज़र

कोरोना का ये नया वैरिएंट दक्षिण अफ्रीका में मिला है। इसे वैज्ञानिकों ने B.1.1.529 नाम दिया है। दक्षिण अफ्रीका के मुताबिक उसके यहां कोरोना का नया वैरिएंट चीन के हांगकांग से आया है। इस वैरिएंट को पहले के मुकाबले ज्यादा खतरनाक बताया जा रहा है।

Written by: November 26, 2021 6:36 am
corona

नई दिल्ली। 2020 के नवंबर से दुनियाभर में कोरोना का हाहाकार मचा है। इसके बारे में कहा जाता है कि चीन से वायरस आया। चीन इसका विरोध करता है, लेकिन अब कोरोना का जो नया वैरिएंट दुनियाभर के लिए चिंता का सबब बना है, उसके बारे में पुख्ता हो गया है कि वो चीन से ही आया है। कोरोना का ये नया वैरिएंट दक्षिण अफ्रीका में मिला है। इसे वैज्ञानिकों ने B.1.1.529 नाम दिया है। दक्षिण अफ्रीका के मुताबिक उसके यहां कोरोना का नया वैरिएंट चीन के हांगकांग से आया है। इस वैरिएंट को पहले के मुकाबले ज्यादा खतरनाक बताया जा रहा है। दक्षिण अफ्रीका ने इस मसले पर विश्व स्वास्थ्य संगठन WHO से आपात बैठक करने की गुजारिश की है। उधर, नए वैरिएंट के सामने आने के बाद भारत सरकार ने दक्षिण अफ्रीका, बोत्सवाना और हांगकांग से आने वाले विदेशी यात्रियों की सक्रीनिंग का फैसला किया है। इन तीन देशों से आने वाले हर नागरिक का कोविड टेस्ट कराया जाएगा।

Coronavirus

कोरोना के नए वैरिएंट से खतरा बढ़ा है, तो पहले वाले कोरोना के डेल्टा वैरिएंट से अमेरिका और यूरोप के देशों में हाहाकार मचा है। ऑस्ट्रिया ने अपने यहां फिर से लॉकडाउन लगाया है। जर्मनी और ब्रिटेन समेत यूरोप के तमाम देशों में हर रोज हजारों मरीज सामने आ रहे हैं। रूस में भी मरीजों की तादाद में बड़ी बढ़ोतरी हुई है। ये हाल तब है, जबकि अमेरिका, यूरोप के देशों और रूस में 70 फीसदी से ज्यादा लोगों को कोरोना की वैक्सीन लग चुकी है।

Coronavirus

भारत में अभी कोरोना के केस कम आ रहे हैं, लेकिन महाराष्ट्र के चिकित्सा मंत्री राजेश टोपे ने आगाह किया है कि दिसंबर में कोरोना की तीसरी लहर आ सकती है। हालांकि, उनका ये भी दावा है कि इस लहर में ज्यादा नुकसान नहीं होगा। बता दें कि कोरोना की दूसरी लहर ने भारत में हाहाकार मचा दिया था और सैकड़ों की तादाद में हर रोज लोगों की जान ली थी।

Support Newsroompost
Support Newsroompost