Connect with us

Education

Bihar: BPSC का पेपर लीक, छात्रों ने किया हंगामा, परीक्षा हुई निरस्त

बिहार। आज BPSC की परीक्षा यानी बिहार प्रशासनिक सेवा की परीक्षा थी। लेकिन परीक्षा होने से पहले ही सोशल मीडिया पर पेपर लीक होने की वजह से बिहार में हंगामा मच गया। ये बिहार लोक सेवा आयोग की 67वीं संयुक्त प्रारंभिक परीक्षा (PT परीक्षा) थी। इस दौरान बिहार के कई जिलों में पेपर लीक हो गया

Published

on

BPPS

नई दिल्ली। बिहार से एक हैरान कर देने वाली खबर सामने आ रही है। आज BPSC की परीक्षा यानी बिहार प्रशासनिक सेवा की परीक्षा थी। लेकिन परीक्षा होने से पहले ही सोशल मीडिया पर पेपर लीक होने की वजह से बिहार में हंगामा मच गया। ये बिहार लोक सेवा आयोग की 67वीं संयुक्त प्रारंभिक परीक्षा (PT परीक्षा) थी। इस दौरान बिहार के कई जिलों में पेपर लीक हो गया और एग्जाम शुरु होने से पहले ही पेपर सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। परीक्षा में शामिल परिक्षार्थियों को इस बात की तब तक भनक नहीं लगी और वो पेपर देने के लिए चले गए। लेकिन जब छात्र परीक्षा देकर वापस आए और उन्होंने सवालों का मिलान किया गया तो वो परीक्षा में आए सवालों से वायरल हो रहे वीडियो के सवाल मैच हो गए. जैसे ही परीक्षार्थियों को इसकी खबर हुई, उसके बाद कई जिलों में अभ्यर्थियों ने हंगामा किया। बता दें कि इस परिक्षा के लिए बिहार के 38 जिलों में 1083 एग्जाम सेंटर बनाए गए थे। यह बिहार लोक सेवा आयोग की पीटी का सी सेट का प्रश्न पत्र था और यही लीक हुआ था। बिहार की राजधानी पटना में 83 केंद्र बनाए गए थे। यहां पर 55,710 अभ्यार्थियों ने परीक्षा दी। परीक्षा के लिए सभी केंद्रों पर मजिस्ट्रेट की नियुक्ति की गई थी।

BPSC PT exam paper leak in Bihar student protest in Arrah BPSC PT Paper Leak: बिहार में BPSC की पीटी परीक्षा का पेपर लीक, आरा में छात्रों ने काटा बवाल - India

परीक्षा की गई निरस्त

अभी मिले अपडेट में बताया गया है कि BPSC बिहार प्रशासनिक सेवा की इस परीक्षा को निरस्त कर दिया गया है। इससे पहले नाराज छात्रों ने आरा जिले के कुंवर सिंह कॉलेज में एक वर्ग के द्वारा फोन का इस्तेमाल करने का आरोप लगाने पर हंगामा मचा दिया। विरोध करने वाले छात्रों का कहना था कि उन्होंने हमें बताया कि हमारी परीक्षा में देरी होगी। लेकिन ऐसे में भी कई छात्रों नें दो अलग-अलग कमरों में दरवाजे बंद करके परीक्षा दी।

बता दें कि इस बारे विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने ट्वीट करके बिहार सरकार को घेरा। इसमें उन्होंने बिहार लोक सेवा आयोग का नाम बदलकर ‘बिहार लोक पेपर लीक आयोग’ को कहा।

बहरहाल, अभी यह पूरा मसला खासा सुर्खियों में है। लोग इसम पर अलग-अलग तरह से अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए नजर आ रहे हैं। सियासी गलियारों में भी लोग इस मसले को लपकते हुए नजर आ रहे हैं। अब ऐसी स्थिति में यह पूरा मसला क्या कुछ रुख अख्तियार करता है। इस पर सभी की निगाहें टिकी रहेंगी।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement