कोरोना का असर : CBSE बोर्ड के 9वीं से 12वीं क्लास के लिए 30 फीसदी कम किया सिलेबस

मानव संसाधन विकास (HRD) मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने मंगलवार को बताया कि पाठयक्रम को 30 प्रतिशत कम करने का फैसला किया गया है।

Written by: July 7, 2020 6:14 pm

नई दिल्ली। कोरोनावायरस के चलते आम जनजीवन काफी प्रभावित हुआ है। इसका असर शिक्षा पर भी दिखाई दे रहा है। इस क्षेत्र में हुए नुकसान को देखते हुए सीबीएसई उसकी भरपाई करने की कोशिश में है। ऐसे में पढ़ाई में हुए इस नुकसान के मद्देनजर छात्रों के दबाव को कम करने के लिए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने 9वीं से 12वीं कक्षा के पाठयक्रम को घटाने का फैसला किया है।

cbse

आपको बता दें कि मानव संसाधन विकास (HRD) मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने मंगलवार को बताया कि पाठयक्रम को 30 प्रतिशत कम करने का फैसला किया गया है। मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने खुद से इस बात की जानकारी दी है

CBSE

HRD मंत्री ने अपने ट्वीट में लिखा, “देश और दुनिया में पनपे हालातों के मद्देनजर CBSE को पाठ्यक्रम को संशोधित करने और कक्षा 9वीं से 12वीं के छात्रों के लिए कोर्स के दबाव को कम करने की सलाह दी गई थी।”

वहीं इसके अलावा हाल ही में काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (CISCE) ने भी अगले एकेडमिक सेशन में 10वीं- 12वीं के सभी प्रमुख विषयों के सिलेबस को 25 फीसदी तक कम करने की घोषणा की थी। इस बारे में बोर्ड ने एक ऑफिशियल नोटिफिकेशन जारी कर बताया कि, “मौजूदा सत्र 2020-21 के दौरान अनुदेशात्मक घंटों में होने वाले नुकसान के मद्देनजर यह निर्णय लिया गया है।”