Connect with us

मनोरंजन

Laal Singh Chaddha: आमिर खान की फिल्म को Sanatan Rakshak Sena ने किया बैन करने की मांग, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से लगाई गुहार

Laal Singh Chaddha: आमिर खान की फिल्म को Sanatan Rakshak Sena ने किया बैन करने की मांग, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से लगाई गुहार अब एक बार फिर उत्तर प्रदेश राज्य से फिल्म को बॉयकॉट करने की मांग उठी है जो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक पहुंच गयी है। क्या है पूरा मामला आगे विस्तार में जानते हैं।

Published

on

नई दिल्ली। आमिर खान की लाल सिंह चड्ढा पहले से लोगों के निशाने पर है। लोग उसे बॉयकॉट करने की बात करने की बात कर रहे थे। क्योंकि लोगों को ऐसा लगता है की आमिर खान के कई बयान हिन्दू विरोधी हैं। 11 अगस्त को फिल्म रिलीज़ हो गयी जहां बहुत सारे सिनेमाघर दर्शकों के बिना अधूरे दिखे वहीं फिल्म देखने के बाद भी ज्यादातर दर्शकों को, फिल्म पसंद नहीं आयी है। अगर फिल्म के पहले दिन के कलेक्शन की बात करें तो वो भी बहुत कम है जो की आमिर खान की साख पर खतरा है। कुछ खबरों के मुताबिक़ आमिर खान की फिल्म को देखने के लिए सिनेमाघर में दर्शक गये ही नहीं हैं। जो आमिर खान की फिल्म देखने के लिए सिनेमाघर के बाहर थिएटर हाउसफुल होने के बाद लाइने लगी रहती थीं। उन्हीं आमिर खान की फिल्म है और थिएटर आधे से भी ज्यादा खाली दिख रहा है। अब ये बॉयकॉट का असर नहीं है तो क्या है ? लेकिन कुछ लोग मानने को तैयार ही नहीं हैं। वो कह रहे हैं यह बॉयकॉट का असर नहीं है। अब एक बार फिर उत्तर प्रदेश राज्य से फिल्म को बॉयकॉट करने की मांग उठी है जो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक पहुंच गयी है। क्या है पूरा मामला आगे विस्तार में जानते हैं।

सनातन रक्षक सेना ने की फिल्म को बॉयकॉट करने की मांग

आपको बता दें कुछ हिन्दू संगठनों की तरफ से फिल्म को लेकर बॉयकॉट करने की मांग तेज़ हो गयी है। लोग फिल्म को बॉयकॉट करने के लिए सड़कों पर भी उतरे हैं। इसके अलावा डिमांड भी कर रहे हैं की आमिर खान की फिल्मों को बैन किया जाये। ताजा मामला सनातन रक्षक सेना की तरफ से आया है जिनकी तरफ से फिल्म को लेकर प्रोटेस्ट किया गया और फिल्म को उत्तर प्रदेश राज्य में बैन करने की मांग भी करी गयी है। सनातन रक्षक सेना के युवा विंग के अध्यक्ष चंद्र प्रकाश सिंह ने फिल्म को बैन करने की मांग किया है। इसके अलावा इसी विंग के वाइस पप्रेसिडेंट अरुण पांडेय ने भी कहा है की आमिर खान की फिल्में हिन्दू परम्पराओं का मजाक उड़ाती हैं, हिन्दुओं का मजाक उड़ाती हैं और सनातन धर्म के विरुद्ध होती हैं। इसलिए इन फिल्मों को बिल्कुल भी चलने नहीं देना चाहिए। इसके अलावा उन्होंने ये भी कहा है की वो दरवाजे दरवाजे जाकर लोगों से फिल्म को न देखने की अपील करेंगे। हम सनातनी हैं। ऐसी सनातन विरोधी फिल्में हम नहीं चलने देंगे।

फिल्म के रिलीज़ के एक दिन बाद से ही फिल्म को बैन करने की मांग मुखर हो चुकी है। जहां आमिर खान की फिल्म पहले ही अच्छा बिजनेस करने में लड़खड़ा रही थी वहीं एक बार फिर से फिल्म को बैन करने की मांग प्रबल रूप से बढ़ गयी है। आगे क्या होगा ये तो वक़्त बताएगा पर आमिर खान की फिल्मों को लेकर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा और जब तक विवाद थमेगा नहीं आमिर खान के सितारे गर्दिश में ही रहने वाले हैं।

Advertisement
Advertisement
Advertisement