Connect with us

मनोरंजन

The Legend Of Maula Jatt: पाकिस्तानी फिल्म “द लीजेंड ऑफ़ मौला जट” की भारत में रिलीज़ को लेकर, भड़के मनसे के कार्यकर्ता, बोले – नहीं होने देंगे…

आपको बता दें, महाराष्ट्र नवनिर्माण पार्टी के नेता अमय खोपकर ने फिल्म को रिलीज नहीं करने की बात कही है। उन्होंने ट्वीट कहा कि, ‘पाकिस्तानी अभिनेता फवाद खान की पाकिस्तानी फिल्म ‘द लीजेंड ऑफ मौला जट्ट’ को भारत में रिलीज करने की योजना है।

Published

नई दिल्ली। भारत में फिल्मों को लेकर बवालों का कटना अब आम हो चुका है। कभी किसी फिल्म को लेकर विवाद देखने को मिलता है, तो कभी किसी फिल्म को लेकर। कभी इन विवादों से फिल्मों को फायदा मिलता हुआ भी देखा गया, तो कभी-कभी इन विवादों ने फिल्म की नईया डुबो डाली है। अब इसी बीच एक ऐसी ही फिल्म है, जिसे लेकर आगामी दिनों में विवाद के उपज की संभावना है। दरअसल, यह पाकिस्तानी फिल्म है, जिसका नाम “लीजेंड ऑफ मोला जट्ट” है। इसमें पाकिस्तानी एक्टर फवाद खान मुख्य भूमिका में नजर आ रहे हैं। वर्तमान में यह फिल्म पूरी दुनिया में खूब तारीफें बटोर रही हैं। खबर है कि आगामी 23 दिसंबर को इसे भारत में भी रिलीज किया जा सकता है। जिसे लेकर अब रानजीतिक प्रतिरोध देखने को मिल रहा है। इतना ही नहीं, इस फिल्म को देखने वालों को देशद्रोही की संज्ञा भी दे दी गई है। हालांकि, अभी तक फिल्म रिलीज नहीं हुई है, लेकिन अभी से ही फिल्म को लेकर विरोध देखने को मिल रहा है।

आपको बता दें, महाराष्ट्र नवनिर्माण पार्टी के नेता अमय खोपकर ने फिल्म को रिलीज नहीं करने की बात कही है। उन्होंने ट्वीट में कहा है कि, ‘पाकिस्तानी अभिनेता फवाद खान की पाकिस्तानी फिल्म ‘द लीजेंड ऑफ मौला जट्ट’ को भारत में रिलीज करने की योजना है। यह सबसे अधिक क्रुद्ध करने वाली बात है कि एक भारतीय कंपनी इस योजना का नेतृत्व कर रही है। राज ठाकरे साहब के आदेश के बाद, हम इस फिल्म को भारत में कहीं भी रिलीज नहीं होने देंगे। इसके अलावा उन्होंने एक दूसरा ट्वीट भी किया है, जिसमें उन्होंने कहा कि फवाद खान के प्रशंसक, देशद्रोही, पाकिस्तान जाकर फिल्म देख सकते हैं।

अभी उनका यह ट्वीट काफी तेजी से वायरल हो रहा है, जिस पर लोग अलग-अलग तरह से अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए नजर आ रहे हैं। अब मनसे नेता के ट्वीट से आप इस बात का सहज ही अंदाजा लगा सकते हैं कि आगामी दिनों में जब मनसे इस फिल्म को लेकर प्रतिरोध देखने को मिल रहा है, तो इस बात की पूरी संभावना है कि आगामी दिनों में अन्य दलों में भी इस फिल्म को लेकर प्रतिरोध देखने को मिल सकता है। अब ऐसी स्थिति में यह देखने वाली बात होगी कि यह फिल्म भारत में रिलीज हो पाती है की नहीं।

इस फिल्म में पाकिस्तान के विपरीत पूरी दुनिया में खूब कमाई की है। खबरें ऐसी भी हैं कि यह पाकिस्तान की पहली ऐसी फिल्म है जिसने पूरे विश्व में बॉक्स ऑफिस पर इतना जोरदार प्रदर्शन किया है। इस फिल्म की मेकिंग, कहानी और एक्टिंग सभी की तारीफ हो रही है। जिसके चलते इस फिल्म के कुछ चाहने वाले भारत में भी मौजूद हैं और वो चाहते हैं कि इस पाकिस्तानी फिल्म को भारत में रिलीज़ किया जाए। कुछ दिन पहले खबरें आई की आने वाले 23 दिसंबर को फिल्म भारत में रिलीज़ की जाएगी। जिसे ज़ी स्टूडियो के द्वारा रिलीज़ किया जाएगा। हालांकि ये सभी सिर्फ खबरें थीं और औपचारिक घोषणा अब तक नहीं हुई है।

इसके बाद मनसे की तरफ से इस फिल्म को भारत में रिलीज़ होने के विपक्ष में विरोध सामने आया है। इससे पहले भी अमेय खोपकर को ये जानकारी थी कि कुछ बॉलीवुड वाले पाकिस्तानी आर्टिस्ट के साथ दोबारा से काम करने की योजना बना रहे हैं। तब भी अमेय खोपकर की तरफ से विरोध दर्ज़ हुआ था और उन्होंने कहा था कि अगर ऐसा होता है तो वो इन फिल्मों को रिलीज़ नहीं होने देंगे। अब जब से पाकिस्तानी फिल्म द लीजेंड और मौला जेट की भारत में रिलीज़ होने की खबर आई है अमेय खोपकर फिर अपनी बात दोहराई है और बोला है कि वो फिल्म को भारत में रिलीज़ नहीं होंगे देंगे।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement