तबलीगी जमात से जुड़े 22 हजार लोगों को क्वारंटीन किया गया : स्वास्थ्य मंत्रालय

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि शुक्रवार से कोरोनावायरस के 601 मामले सामने आए हैं और 12 लोगों की मौत हो चुकी है। उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस से संक्रमित 58 रोगी की हालत चिंताजनक बनी हुई है। ये लोग मध्यप्रदेश, दिल्ली और केरल के हैं।

Avatar Written by: April 4, 2020 5:45 pm

नई दिल्ली। केंद्र ने शनिवार को कहा कि 17 राज्यों में तबलीगी जमात से संबंधित 1023 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इसके साथ ही तबलीगी जमात से जुड़े 22 हजार लोगों को विभिन्न राज्यों में क्वारंटीन किया गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि शुक्रवार से कोरोनावायरस के 601 मामले सामने आए हैं और 12 लोगों की मौत हो चुकी है। उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस से संक्रमित 58 रोगी की हालत चिंताजनक बनी हुई है। ये लोग मध्यप्रदेश, दिल्ली और केरल के हैं।

Markaj Nizamuddin

सरकार ने लोगों से अपील की है हमें हर स्तर पर एक ही प्रयास करना चाहिए कि मिलकर काम करें और कहीं चूक न हो। अग्रवाल ने कहा कि कोरोनावायरस के 1023 मामले 17 राज्यों से जुड़े तबलीगी जमात के लोगों के हैं। अबतक जमात और उनके संपर्क के 22000 लोगों को क्वारंटीन किया गया है। इसके अलावा जमात से जुड़े अन्य लोगों की तलाश की जा रही है। अधिकारी ने कहा कि, देश में कोरोनावायरस मामलों में बढ़ोतरी अन्य देशों के मुकाबले कम है, इसलिए घबराने की आवश्यकता नहीं है।

Lav Aggrawal

उन्होंने कहा, “कोरोनावायरस की जांच 100 सरकारी लैबों में की जा रही है और प्रतिदिन 10,000 लोगों की जांच की जा रही है। हम इसके अलावा एन95 मास्कों और डॉक्टरों के लिए निजी सुरक्षा उपकरणों को विभिन्न श्रोतों से खरीदने की कोशिश कर रहे हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, 9 प्रतिशत कोरोना के मरीज 0 से 20 साल की उम्र के बीच हैं। 42 प्रतिशत लोग 20-40 के बीच आयु के लोग हैं , जबकि 33 प्रतिशत लोग 40-60 के बीच के हैं। 17 प्रतिशत मरीज 60 साल के ऊपर के हैं। लव अग्रवाल ने बताया कि डेथ रिपोर्ट के मुताबिक, इनमें ज्यादातर मौतें उम्र या फिर कई अन्य बीमारियां मौत की वजह रही हैं।

उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा, “हाई रिस्क लोग सरकार के निदेशरें का पालन करें। सरकार के कदम सफल साबित हो रहे हैं। लेकिन हम एक संक्रामक बीमारी का सामना कर रहे हैं,अगर चूक हुई तो स्थिति खराब हो सकती है।”

अग्रवाल ने कहा, “कोरोना के खिलाफ मिलकर लड़ाई लड़नी है। एक्शन प्लान को लेकर गाइडलाइन जारी की गई है। मुंह ढकने को लेकर एडवाइजरी की गई है। टेस्टिंग बढ़ाने पर हमारा जोर है।”

मंत्रालय के मुताबिक, देशभर में अब तक कोरोना के मरीजों की संख्या 2992 है। अब तक 68 लोगों की मौत हुई है, जबकि 183 लोग ठीक हो गये हैं। ये आंकड़े शनिवार सुबह 9 बजे तक के हैं।

Support Newsroompost
Support Newsroompost